कांग्रेस के 5 बागी नेता उत्तराखंड सरकार में बने मंत्री

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2017-03-20 02:38:39
कांग्रेस के 5 बागी नेता उत्तराखंड सरकार में बने मंत्री


उत्तराखंड। त्रिवेन्द्र सिंह रावत शपथ के साथ उत्तराखंड के 9वें सीएम बन गए है। त्रिवेन्द्र सिंह रावत आरएसएस के प्रचारक रह चुके हैं। शपथ ग्रहण समारोह में रावत के अलावा 9 मंत्रियों को भी शपथ दिलाई गई है। इनमें 7 कैबिनेट मिनिस्टर और दो स्टेट मिनिस्टर बनाए गए हैं।

खास बात यह रही कि इन मंत्रियों में आधे से ज्यादा कांग्रेसी बागियों को जगह मिली है। पांच नेता ऐसे है जो पहले कांग्रेस में थे। देहरादून के परेड ग्राउंड में राज्यपाल डॉक्टर कृष्णकांत पॉल ने मंत्रियों को पद की शपथ दिलाई। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह मौजूद रहे। उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत भी त्रिवेंद्र सिंह रावत के शपथ समारोह में पहुंचे थे। इन को बनाया गया मंत्री-
यशपाल आर्य
यह बाजपुर सीट से विधायक चुने गए हैं। यह 12 हज़ार वोटों से जीते हैं। इनको कैबिनेट मिनिस्टर बनाया गया हैं। आर्य कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए थे। इनके बेटे को भी टिकट मिला था। इनका बेटा संजीव आर्य नैनीताल से विधायक बन गया।

यह भी पढ़ें-पुराने नोटों को जमा कराने के मामले में उत्तराखंड में सबसे अव्वल टिहरी

हरक सिंह रावत
इनको कैबिनेट मिनिस्टर बनाया गया हैं। यह कोटद्वार से विधायक बने। यह कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए हैं। उन्होंने स्वास्थ्य मंत्री रहे सुरेंद्र सिंह नेगी को हराया। उत्तराखंड में उनकी यह जीत सबसे बड़े अंतर से हुई।

सतपाल महाराज
महाराज कैबिनेट मिनिस्टर बनाए गए हैं। इनका नाम सीएम पद की रेस में शामिल था। इन्होंने कांग्रेस के राजपाल बिष्ट को हराकर पौड़ी की चौबट्टाखाल सीट पर जीत दर्ज की। । सतपाल महाराज गढ़वाल से कांग्रेस के लोकसभा सांसद भी रहे हैं।

यह भी पढ़ें-वर्ल्ड मैप में शामिल हुआ उत्तराखंड का मैप

सुबोध उनियाल
कैबिनेट मिनिस्टर बनाए गए हैं। वो नरेंद्रनगर सीट से तीसरी बार विधायक बनें हैं। निर्दलीय प्रत्याशी ओम गोपाल रावत को पांच हजार वोटों से हराया है। कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए हैं।
रेखा आर्य

आर्य राज्य मंत्री बनाई गई हैं। 2016 में कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुई थीं। इन्होंने सोमेश्वर सीट से विधानसभा चुनाव जीता है। करीब 21 हज़ार वोटों से जीत दर्ज की थी। 2014 हुए उपचुनाव में कांग्रेस के टिकट पर विधायक बनीं थीं।


उत्तराखंड पर शीर्ष समाचार