500 और 1000 के नोट बंद करने पर ममता ने जताई आपत्ति

Edited by: Editor Updated: 09 Nov 2016 | 09:01 AM
detail image

कोलकाता। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 500 और 1000 रूपए के नोटों को बंद करने के फैसले ने हर जगह हाहाकार मचा दिया है। मोदी के इस निर्णय पर कई लोगों ने अपने अपने अनुसार टिप्पणी भी की हैं। वहीं, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी मोदी के इस निर्णय से आपत्ति जताई हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक ममता ने केन्द्र के फैसले को निर्मम एवं बिना सोचे समझे लिया गया फैसला बताया, जिससे वित्तीय दिक्कतें होंगी। ममता ने मोदी के इस निर्णय पर दिए अपने बयान में कहा है कि इस कठोर फैसले को वापस लिया जाए। उन्होंने कहा कि वह कालेधन भ्रष्टाचार के खिलाफ सख्त हैं, लेकिन आम लोगों तथा छोटे कारोबारियों के बारे में गहराई से चितिंत हैं। वे कल सामान कैसे खरीदेंगे। यह वित्तीय अव्यवस्था और आपदा है।

मिली जानकारी के मुताबिक ममता ने मोदी सरकार पर विदेश से काला धन वापस लाने में नाकामी से ध्यान हटाने के लिए नाटक करने का आरोप लगाया है और यह भी कहा है कि मोदी अमीरों से विदेश में जमा कालाधन वसूलने का वादा नहीं पूरा कर पाए इसलिए इस नाकामी से ध्यान हटाने के लिए नाटक किया गया है।