कैंप लगवाकर किसानों के लिए बनवाएं जाएंगे आधार कार्ड

Edited by: Editor Updated: 28 Jul 2017 | 06:03 PM
detail image

बांदा। लघु एवं सीमांत कृषकों के उन्नयन व सतत विकास के लिए संचालित फसली ऋण मोचन योजना के प्रभावी क्रियान्वयन पर प्रशासन का विशेष जोर है। जिन किसानों के अभी तक आधार कार्ड नहीं बने हैं उनके कैंप लगाकर कार्ड बनवाए जाएं। चित्रकूटधाम मंडल के कमिश्नर ने जिलाधिकारियों को कैंप आयोजित कराने के निर्देश दिए हैं।

यह भी पढ़ें- गंदगी मिलने पर भड़के एडीएम, लगाई फटकार

कैंप कार्यालय में आयोजित फसल ऋण मोचन योजना की बैठक में कमिश्नर अजय कुमार शुक्ला ने बैंकर्स को निर्देश दिए कि योजना के क्रियान्वयन में किसी प्रकार की लापरवाही न करें वर्ना कार्रवाई होगी। प्रथम चरण में पात्र पाए गए किसानों की सूची का ग्राम वार प्रदर्शन होगा और जो आपत्तियां मिलेंगी उनका निस्तारण जिला स्तर पर स्थायी समिति द्वारा किया जाएगा। जिलाधिकारियों को निर्देश दिए कि जिन किसानों के आधार कार्ड नहीं बने कैंप लगाकर उनके आधारकार्ड बनवाए जाएं।

मुख्य विकास अधिकारियों को योजना के क्रियान्वयन की लगातार समीक्षा के निर्देश दिए कहा कि सरकार से धनराशि प्राप्त होने के बाद योजना में विहित रीति के अनुसार उसे समायोजित किया जाए और ऐसे किसानों का विवरण उपलब्ध कराएं। इस दौरान संयुक्त विकास आयुक्त शिवकुमार मिश्र, संयुक्त निदेशक कृषि वीके सिंह, उपनिदेशक सूचना भूपेंद्र यादव, उपनिदेशक अर्थ एवं संख्या एसएन त्रिपाठी, एसडीएम व बैंकर्स सहित संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।