नोटबंदी के बाद अब स्विस बैंकों में छिपे कालेधन पर होगी सर्जिकल स्ट्राइक

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2016-11-23 11:00:59
नोटबंदी के बाद अब स्विस बैंकों में छिपे कालेधन पर होगी सर्जिकल स्ट्राइक

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कालेधन को लेकर छेड़ी गई मुहिम अब रंग ला रही है। नोटबंदी के बाद कालाधन पर एक और बड़ा वार करने की तैयारी है।

नोटबंदी के वार ने कालाधन रखने वालों की कमर तोड़ दी है। लेकिन अब ऐसे लोगों की सांसें रोकने की तैयारी भी कर ली गई है। मोदी सरकार कालेधन पर इतिहास का सबसे बड़ा वार करने को तैयार है।

यह भी पढे़ं- अगर बालासाहेब होते तो नोटबंदी का समर्थन करते: पीएम मोदी

सूत्रों के मुताबिक भारत और स्विटरलैण्‍ड ने उस ज्वाइंट डिक्लेरेशन पर दस्तखत कर दिए हैं, जिसके तहत दोनों देशों के बीच कालेधन की आवाजाही की जानकारी साझा करने पर सहमति बनी है।

कालाधन छुपाने वालों के लिए स्विटजरलैण्‍ड स्वर्ग की तरह है। वहां के स्विस बैंक में देश के अरबों रुपए छुपाए गए हैं।

यह भी पढ़ें- मुठभेड़ में मारे गए आतंकियों के पास से बरामद हुए 2000 के नए नोट

बता दें कि साल 2014 में भाजपा की सरकार बनने से पहले ही पीएम मोदी ने कहा था कि वह स्विस बैंक में जमा किए गए भारतीयों के कालेधन को लेकर आएंगे। अब इस समझौते के बाद उनके वादे को पूरा करने का वक्त करीब आ गया लगता है।

यह भी पढ़ें- केंद्र सरकार ने बैंकों में पैसे जमा करने के नियमों में फिर किया बदलाव

सूत्रों के मुताबिक भारत और स्विटजरलैण्‍ड के बीच समझौते पर दस्तखत कर दिए गए हैं। अब स्विटरलैण्‍ड के स्विस बैंक में छुपाए गए भारतीयों की कालेधन की पोल कभी भी खुल सकती है।


राष्ट्रीय पर शीर्ष समाचार