गेंहू के दामों में 15 से 20 फीसदी की हुई बढ़ोतरी

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2016-11-09 11:24:58
 गेंहू के दामों में 15 से 20 फीसदी की हुई बढ़ोतरी

नई दिल्ली। दिल्ली के थोक बाजारों में पिछले एक महीने में गेहूं 15 से 20 फीसदी तक महंगा हुआ है। इसका असर हमारी थाली में परोसी गई रोटी पर पड़ा है। आटा महंगा हो रहा है और आने वाले दिनों में रोटी का निवाला भी महंगा हो जाएगा।

खाद्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के मुताबिक दिल्ली के थोक बाजार में 8 अक्टूबर को 1825 रुपये क्विंटल मिलने वाला गेहूं अब 8 नवंबर को 2130 रुपए क्विंटल मिल रहा है। यानी एक महीने में 305 रुपए क्विंटल की बढ़ोतरी।

जेजे फूड्स प्राइवेट लिमिटेड के एरिया सेल्स मैनेजर ने कहा, "गेहूं महंगा होने का असर आटा की कीमतों पर पड़ा है। आटा महंगा हो गया है।" वहीं किराना दुकान मालिको का कहना है कि पिछले बीस दिन में आटा 23 फीसदी तक महंगा हो गया है। 20 दिन पहले हम 22 रुपए किलो बेच रहे थे अब कीमत बढ़कर 27 रुपये हो गई है। पांच रुपए किलो की बढ़ोत्तरी।

गेहूं उद्योग से जुड़े लोग मानते हैं कि बाज़ार में गेहूं जितना चाहिए उतना नहीं है। सरकार को इसमें दखल देना चाहिए। गेहूं के कमीशन एजेंट लाल रत्न कहते हैं, "बाज़ार में सरकार को गेहूं का ओपन सेल करना चाहिए। बाज़ार में डिमांड के मुताबिक सप्लाई से गेहूं की काफी कम हो गई है"।

पिछले एक महीने में दिल्ली के बाज़ारों में गेहूं 15 से 20 फीसदी महंगा हुआ है। इस वजह से आटा मिलों की लागत बढ़ी है। नतीजा यह हुआ है कि इसका असर अब साफ तौर पर थोक और खुदरा बाज़ार पर दिखने लगा है।

 


राष्ट्रीय पर शीर्ष समाचार