सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद आजम खां बिना शर्त माफी मांगने के लिए तैयार

Edited by: Editor Updated: 17 Nov 2016 | 09:49 PM
detail image

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने बुलंदशहर गैंगरेप मामले पर गुरुवार को सुनवाई करते हुए यूपी के मंत्री आजम खान को जमकर फटकार लगाई। कोर्ट ने आजम खान से गैंगरेप केस पर माफीनामा दाखिल करने का आदेश दिया, जिसपर आजम तुरंत बिना शर्त माफी मांगने को तैयार हो गए।

गौरतलब है कि आजम ने बुलंदशहर गैंगरेप को राजनीतिक साजिश बताया था। मामले की अगली सुनवाई अब 7 दिसंबर को होगी। मामले की सुनवाई करते हुए कोर्ट ने कहा कि आजम अपनी टिप्पणी के लिए माफी मांगे। सुप्रीम कोर्ट ने आजम खान को नया हलफनामा दाखिल करने को भी कहा है।

ये भी पढ़ें- पूर्व गवर्नर ने नोटबंदी को ठहराया सही, गिनाए 5 बड़े फायदे

बता दें कि पिछली सुनवाई के दौरान एमिकस क्यूरी एफ.एस. नरीमन ने मामले में रिपोर्ट पेश की थी। रिपोर्ट में कहा गया कि मामले में आजम खान के बयान को तमाम मीडिया ने छापा था। रिपोर्ट में मंत्री द्वारा पद और गोपनीयता की शपथ के बारे में भी बताया गया।

29 अगस्त को सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में आजम खान को नोटिस जारी कर जवाब दाखिल करने को कहा था, साथ ही पब्लिक सर्वेंट द्वारा बयान के मामले में देश-विदेश की तमाम अदालतों में दिए गए फैसले का हवाला दिया था।

ये भी पढ़ें- चुनाव से पहले सपा का दामन छोड़ सकते हैं आजम खां!

कोर्ट ने सुनवाई के दौरान पूछा कि क्या आजम अपने बयान पर माफी मांगने को तैयार हैं क्योंकि उन्होंने पीड़िता को दुख पहुंचाया है, यूपी के मंत्री फिर तुरंत माफी मांगने को तैयार गए हैं।

कोर्ट अब 7 दिसंबर को आजम के माफीनामे पर विचार करेगा। सुप्रीम कोर्ट ने टिप्पणी करते हुए कहा कि गैंगरेप की पीड़िता के मुद्दे पर बयान देने से पहले बयान देने वालों को जिम्मेदारी का अहसास होना चाहिए।