कालेधन के बाद अब सोना-हीरा खरीदने वालों पर होगी सर्जिकल स्ट्राइक

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2016-11-15 21:47:50
कालेधन के बाद अब सोना-हीरा खरीदने वालों पर होगी सर्जिकल स्ट्राइक

नई दिल्ली। कालेधन पर सर्जिकल स्ट्राइक के बाद अब सरकार की नजर छुपे हुए काले धनकुबेरों पर है। 500 और 1000 के नोट बैन होने के बाद लोगों ने कालेधन को खपाने के लिए नए-नए तरीके अपनाने शुरु कर दिए है। आयकर विभाग और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने काले धन को सफेद करने की जांच शुरु कर दी है।

बता दें कि आयकर विभाग और ईडी अब 8 से 10 नवंबर तक सोना खरीदने और बेचने वालों का वेरीफिकेशन करने जा रहा है। साथ ही दोनों विभाग इन 3 दिनों में सोना, हीरा और विदेशी मुद्रा खरीदने वालों की जांच करने की तैयारी में है।

ये भी पढ़ें- बैंकों से कालेधन को सफेद करने का तरीका पूछ रहे हैं लोग

दरअसल 8 नवंबर को पीएम नरेंद्र मोदी के 500 और 1000 के नोट बैन के एलान के बाद काले धनकुबेर अचानक सकते में आ गए। देर रात से ही लोगों ने फौरन अपने पास रखे 500 और 1000 के नोटों को सोने, हीरे और विदेशी मुद्राओं में बदलना शुरु कर दिया।

आपको बता दें कि आयकर विभाग और ईडी के अधिकारी उन लोगों की फेहरिस्त तैयार करने में जुटे हैं, जिन लोगों ने 8 से 10 नवंबर के बीच सोना, हीरा और विदेशी मुद्रा की खरीद-फरोख्त की है। विभाग पहले इनका वेरीफिकेशन करने जा रहा है।

ये भी पढ़ें- 6000 करोड़ की नकदी के साथ बिजनेसमैन ने किया आत्मसमर्पण

जिसके बाद संबंधित लोगों को खरीद-फरोख्त की रकम का हिसाब देना होगा और बताना होगा कि उनके पास यह पैसा कहां से आया। वहीं आयकर विभाग और प्रवर्तन निदेशालय ज्वैलर्स और धार्मिक संस्थानों पर भी खासा नजर बनाए हुए हैं। बता दें कि आयकर विभाग और ईडी दिल्ली, मुंबई समेत कई महानगरों से छापेमारी के दौरान कब्जे में लिए गए दस्तावेजों का आंकलन कर रहा है।


बिजनेस पर शीर्ष समाचार