भावुक अखिलेश ने कहा, 'अमर सिंह के साथ वालों को नहीं छोड़ूंगा'

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2016-10-23 12:58:14
भावुक अखिलेश ने कहा, 'अमर सिंह के साथ वालों को नहीं छोड़ूंगा'

लखनऊ। अपने चाचा शिवपाल को मंत्रिमंडल से बर्खास्त करने के बाद सीएम अखिलेश काफी भावुक हो गए। उन्होंने कहा कि नेता जी मेरे पिता हैं और मैं उनका काफी सम्मान करता हूं।

इससे पहले सीएम अखिलेश यादव ने रविवार को विधायक दल की एक बैठक बुलाई। बैठक में अखिलेश यादव ने शिवपाल यादव समेत 6 मंत्रियों को बाहर का रास्ता दिखाया, जिसमें गायत्री प्रसाद प्रजापति, ओम प्रकाश, शादाब फातिमा, नारद राय और जया प्रदा शामिल हैं।

इसके पहले पार्टी महासचिव रामगोपाल यादव ने चिट्ठी लिखकर अखिलेश विरोधियों को जमकर लताड़ा था। रामगोपाल ने कहा था कि जहां अखिलेश होंगे वहां जीत विधानसभा में घुसने नहीं दिया जाएगा। रिपोर्ट के मुताबिक रामगोपाल ने चिट्ठी में लिखा है कि सुलह की कोशिश अखिलेश का रास्ता रोकने की साजिश है।

आगे चिट्ठी में रामगोपाल ने लिखा है ,'अखिलेश की यात्रा विरोधियों के गले की फांस बन गई है, मध्यस्थता करने वाले दिग्भ्रमित करने की कोशिश कर रहे हैं। पत्र में रामगोपाल ने यह भी स्पष्ट किया है कि प्रदेश में जहां पर अखिलेश यादव होंगे वही पर जीत होगी।

बैठक के बाद अखिलेश भावुक हो गए और कहा कि अमर सिंह हमारा घर तोड़ना चाहते है लेकिन हम ऐसा होने नहीं देंगे। जो अमर सिंह के साथ हैं सबको बर्खास्त किया जाएगा। इसी क्रम में अमर सिंह की करीबी मानी जाने वाली जयाप्रदा को भी अखिलेश ने बाहर का रास्ता दिखा दिया।


राजनीति पर शीर्ष समाचार