2 साल बाद आज सिंधु जल समझौते पर बात करेंगे भारत-पाक

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2017-03-20 02:17:57
2 साल बाद आज सिंधु जल समझौते पर बात करेंगे भारत-पाक

नई दिल्ली। स्थायी सिंधु जल आयोग की 113वीं बैठक इस्लामाबाद में शुरू होने जा रही है, जिसमें पानी के बंटवारे पर भारत और पाकिस्तान आज बात करेंगे। मीटिंग में हिस्सा लेने के लिए रविवार को 10 सदस्यों का भारतीय दल इस्लामाबाद पहुंचा चुका है। इस टीम में सिंधु जल आयुक्त पीके सक्सेना, विदेश मंत्रालय के अधिकारी और तकनीकी जानकार शामिल हैं।

यह भी पढ़ें-भारत-पाक तनाव ले सकता है परमाणु युद्ध का रूप: जनरल वोटल

बता दें कि बैठक से पहले पाकिस्तानी सरकार ने एक बयान जारी किया जिसमें आयोग की बैठक के लिए भारत के दल भेजने के फैसले का स्वागत किया गया और उम्मीद जताई गई कि दोनों देशों के बीच पानी के बंटवारे पर मतभेद कम होंगे।

गौरतलब है कि दो दिनों की इस बैठक में पाकिस्तान पकल डुल, लोअर कलनई और मियार में बन रहे पनबिजली प्रोजेक्ट्स पर अपने मुद्दों को उठाएगा। इसके अलावा पाकिस्तानी सरकार भारत से बाढ़ से जुड़ी जानकारी साझा करने की मांग भी कर सकती है।

पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक इस्लामाबाद की ओर से ऐसी परियोजनाओं का दौरा करने की इजाजत भी मांगी जा सकती है जिनपर उसे ऐतराज है। दोनों पक्ष मौसम में बदलाव के चलते नदियों के बहाव में आ रहे परिवर्तन से निपटने के लिए सहयोग पर भी राजी हो सकते हैं।

यह भी पढ़ें-सिंधु जल संधि को लागू करने के लिए एक होंगे भारत व पाक

ज्ञात हो कि स्थायी सिंधु जल आयोग की आखिरी बैठक मई 2015 में हुई थी। इसके बाद पाकिस्तान रतल और किशनगंगा परियोजनाओं पर अपने ऐतराज को वर्ल्ड बैंक लेकर गया था। बता दें कि उरी हमलों के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि खून और पानी एक साथ नहीं बह सकते। हालांकि सिंधु जल समझौता दोनों देशों के बीच तमाम कड़वाहटों के बाद भी बरकरार है।


राष्ट्रीय पर शीर्ष समाचार