जिया खान सुसाइड: सूरज पंचोली ने जिया खान का भ्रूण निकाल कर टॉयलेट में बहा डाला था

Edited by: Editor Updated: 10 Dec 2015 | 06:50 PM
detail image

सीबीआई ने बांबे हाईकोर्ट में दायर किए गए आरोप पत्र में सूरज पंचोली को भी आरोपी बनाया है। बॉलीवुड की उभरती ‌सितारा जिया खान की हत्या में सीबीआई ने जो जार्चशीट दायर की है उसमें उसकी प्रेगनेंसी को लेकर चौंकाने वाले राज सामने आए हैं। इस चार्जशीट में सामने आया है‌ कि जिया खान के ब्वॉयफ्रेंड सूरज पंचोली ने पहले उसे गर्भवती बनाया और फिर उसका गर्भपात कराया था। जिया की प्रेगनेंसी से जुड़ी और कई हैरान करने वाली बातें सामने आई हैं जो सीबीआई की चार्जशीट में बताई गई हैं। सीबीआई की चार्जशीट में जिया खान के गर्भवती होने और फिर उसका गर्भपात कराने की की पूरी कहानी का जिक्र किया गया है।

चार्जशीट में एक खबर का हवाला देते हुए कहा गया है कि जिया खान जब चार सप्ताह की गर्भवती थी तो इसके बारे में अपने प्रेमी सूरज को बताया जिसके बाद दोनों लोग एक डॉक्टर के पास गर्भपात की दवा के लिए पहुंचे। लेकिन डॉक्टर ने जो दवा दी उससे गर्भपात नहीं हुआ तो फिर दोनों दूसरे डॉक्टर के पास पहुंचे। दूसरे डॉक्टर और महिला रोग विशेषज्ञ ने बहुत ही सख्त और प्रभावी दवाई दी। लेकिन इस दवा से जिया को बहुत ज्यादा रक्तस्राव होने लगा तो उसने फिर सूरज को मदद के ल‌िए फोन ‌किया। इसके बाद सूरज ने जिया को दूसरे अस्पताल में ‌दिखाया। इसके बाद जिया को अस्पताल में भर्ती कराने के लिए सूरज तैयार नहीं हुआ। ‌

गर्भपात के बाद जिया का इलाज कराने के लिए एक लंबे वक्त की जरूरत थी जो सूरज पंचोली के लिए चिंता का कारण बन गया। टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार, सूरज पंचोली को लगा कि अगर जिया खान ज्यादा दिन के लिए अस्पताल में भर्ती होती है और अस्पताल देखने जाना पड़ा तो उनका प्रेम प्रसंग जग जाहिर हो जाएगा और जिससे उनका कैरियर भी प्रभावित हो सकता है। इसके बाद सूरज ने एक बड़ा रिस्क लिया और उसने खुद जिया का भ्रूण निकलवा कर उसे टॉयलेट में बहा दिया।

इसी घटना से जिया खान सदमे में आ गई और आत्महत्या कर ली। जिया खान की आत्महत्या को असाधारण मानते हुए जिया खान की मां रबीना खान ने सूरज पंचोली के खिलाफ बांबे हाईकोर्ट में याचिका देकर मामले की सीबीआई जांच कराने की मांग की थी जिसके बाद सीबीआई ने मामले की जांच की।