Disable ADBlock and Click Here to Reload The Page

पति पत्नी निकले जुड़वा भाई-बहन, DNA टेस्ट से खुला राज!

Edited By: Hindi Khabar
Updated On : 2017-04-17 11:02:39
पति पत्नी निकले जुड़वा भाई-बहन, DNA टेस्ट से खुला राज!
पति पत्नी निकले जुड़वा भाई-बहन, DNA टेस्ट से खुला राज!

वाशिंगटन। अमेरिका में एक बड़ा ही अजीब मामला सामने आया है। एक दंपति जब बच्चे की चाह में सामान्य टेस्ट के लिए चिकित्सक की राय लेने पहुंचे तो यह सुनकर अवाक रह गए कि असल में दोनों भाई-बहन है। हालांकि यह सुनकर पहले तो दंपत्ति हंस पड़े और चिकित्सक से किसी गलतफहमी होने की आशंका जताने लगे। 

रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका स्थित जैक्सन नामक क्लीनिक के डॉक्टर ने बताया कि यह एक सामान्य बात है और आमतौर पर गर्भधारण से जुड़ी समस्या का पता लगाने के लिए डीएनए टेस्ट नहीं किया जाता है, लेकिन इस मामले में लैब असिस्टेंट दोनों प्रोफाइलों में काफी समानताएं देख कर आश्चर्यचकित रह गया और डीएनए परीक्षण के बाद यह पता चला कि असल में दोनों जुड़वा भाई-बहन थे।

उक्त रहस्योघाटन के बाद चिकित्सक ने बताताया कि उनकी पहली टिप्पणी यह थी कि दोनों के बीच ज्यादा करीबी संबंध नहीं होंगे, जैसा कि कई बार होता है कि दोनों चचेरे भाई-बहन हो सकते हैं, लेकिन निरीक्षण करने के बाद दोनों में बहुत ज्यादा समानताएं पाई गईं। क्योंकि उपलब्ध डेटा के मुताबिक दोनों की जन्म की तारीख वर्ष 1984 में एक सी है। डॉक्टर ने बताया कि तब उन्हें यह विश्वास हो गया कि दोनों मरीज जुड़वां हैं।

यह भी पढ़ें- कैंसर के खतरे को कम करती हैं गर्भनिरोधक गोलियां!

रिपोर्ट कहती है कि चिकित्सकों को यह नहीं पता था कि दंपति इस बात को जानते हैं या इससे बिल्कुल अनजान हैं, लेकिन जब चिकित्सकों ने उक्त बातर दोनों को बिल्कुल भरोसा नहीं हुआ और जोर से हंस पड़े। हालांकि बाद में पति ने बताया कि कई लोगों ने उनसे यह कहा था कि दोनों के बीच काफी समानताएं हैं उनका जन्मदिन एक ही तारीख को हैं, दोनों दिखते भी एक जैसे ही हैं, लेकिन उन्होंने इसे महज एक संयोग ही माना था।

चिकित्सकों ने कहा कि वो दिल से यह उम्मीद करते हैं कि कोई नतीजा निकाल सकें, जो कि उनके लिए खासतौर पर एक असामान्य मामला है, क्योंकि उनका काम निःसंतान दंपति को बच्चे का सुख दिलाने में सहायता करना है बावजूद उसके यह उनके करियर का पहला ऐसा मामला है जब वो सफलता नहीं प्राप्त करके भी खुश हैं।

गौरतलब है दंपत्ति के माता पिता की बचपन में ही मौत हो गई थी। इसके बाद उन्हें राज्य की देख-रेख में भेज दिया गया और वहां से उन्हें दो अलग-अलग परिवारों को गोद दे दिया गया था।

 


अजब-गजब पर शीर्ष समाचार


x