Disable ADBlock and Click Here to Reload The Page

बुआ ब्रॉडकास्टिंग कार्पोरेशन (बीबीसी) हैं मायावतीः अखिलेश यादव

Edited By: Editor
Updated On : 2016-11-26 09:13:59
बुआ ब्रॉडकास्टिंग कार्पोरेशन (बीबीसी) हैं मायावतीः अखिलेश यादव
बुआ ब्रॉडकास्टिंग कार्पोरेशन (बीबीसी) हैं मायावतीः अखिलेश यादव

रामपुर। सीएम अखिलेश ने विकास रथयात्रा के दूसरे चरण की शुरुआत शनिवार को मुरादाबाद से की। अखिलेश ने मुरादाबाद के मूंढापाण्डेय से रामपुर तक 26 किमी की रथयात्रा निकाली। रामपुर पहुंचकर अखिलेश ने करीब 200 करोड़ रुपए के विकास कार्यों का लोकार्पण किया। इस दौरान उन्‍होंने मायावती पर जमकर हमला किया। साथ ही नोटबंदी को लेकर पीएम मोदी पर भी निशाना साधा।

मायावती पर निशाना साधते हुए अखिलेश ने कहा कि बीबीसी हैं बुआ, रोज चैनल पर आ जाती हैं। अखिलेश ने कहा कि पत्‍थर वाली सरकार की मुखिया कहां से रोज चैनल पर आ जाती हैं। मैंने उनको इसी लिए बीबीसी कहा है। एक बीबीसी ख़बर देती है और एक हमारी बुआ बीबीसी हैं। इनको हम बुआ ब्रॉडकॉस्‍टिंग कॉर्पोरेशन कहते हैं।

यह भी पढ़ें-बार-बार भावुक होकर देश की जनता को ब्लैकमेल कर रहे हैं पीएम मोदीः मायावती

अखिलेश ने आगे कहा कि सबको पता है जो हाथी खड़े थे वो खड़े हैं जो बैठे थे वो बैठे हैं। हमारी सरकार ने इतना काम किया है। सोचो अगर अगली सरकार बन गई तो कितना काम होगा। समाजवादी लोग तीन जगह मेट्रो शुरू करने जा रहे हैं। अभी लैपटॉप बांटा है, आगे मोबाइल बांटने जा रहे हैं। हम किसान नौजवान सबके लिए काम कर रहे हैं। चुनाव दूर नहीं है, चुनाव आपके सामने है इस लिए रामपुर से ज्‍यादा से ज्‍यादा सीटें दीजिए। हम इसका और ज्‍यादा विकास कराएंगे।

नोटबंदी को लेकर अखिलेश ने पीएम मोदी को निशाने पर लिया और कहा कि यह परेशानी महीने-दो महीने में खत्‍म नहीं होगी। आज एक फैसले से देश के लोग लाइन में लगे हुए हैं। मुझे खुशी इस बात की है कि रामपुर के लोग लाइन में नहीं है। मैं हमेशा से कहता हूं जो सरकार जनता को दुख देती है, समय आने पर वही जनता उस सरकार को हटा देती है।

यह भी पढ़ें- अखिलेश को झटका, 3 हजार मुस्लिम सपा छोड़कर बीजेपी में हुए शामिल

नोटबंदी की यह परेशानी महीने-दो महीने में खत्‍म नहीं होगी। इसमें 6 महीने से 1 साल लगेगा। इस फैसले से देश को पीछे कर दिया। जब यह फैसला लिया गया तो लोगों के घर में पैसा नहीं था। लोगों ने पैसों के लिए बच्‍चों के गुल्‍लक तोड़ दिए। हमारी माताएं-बहनें इमरजेंसी के लिए घरों में पैसा रखती हैं। इस सरकार ने उनका वो पैसा तक निकाल लिया।


उत्तर प्रदेश पर शीर्ष समाचार