Disable ADBlock and Click Here to Reload The Page

भाजपा ने पैदा किया जैश-ए-मोहम्मदः कपिल सिब्बल

Edited By: Editor
Updated On : 2016-10-07 08:57:30
भाजपा ने पैदा किया जैश-ए-मोहम्मदः कपिल सिब्बल
भाजपा ने पैदा किया जैश-ए-मोहम्मदः कपिल सिब्बल

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता व पूर्व कानून मंत्री कपिल सिब्‍बल ने भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अमित शाह पर बड़ा हमला करते हुए उन्‍हें हत्‍यारा बताया। कपिल सिब्‍बल ने एक प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि जिन्होंने खुद जेल की हवा खाई हो, जो तड़ीपार हुए हो, जिनके खिलाफ मर्डर के केस हो वो आज हमें बताएगें कि किसके मूल में खोट है?

आपको बता दें कि अमित शाह ने भी शुक्रवार को मीडिया से बात करते हुए राहुल गांधी के बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि उनके मूल में ही खोट है। अमित शाह के इसी बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कपिल सिब्‍बल ने अमित शाह और नरेंद्र मोदी को आड़े हाथों लिया। सिब्‍बल ने कहा कि 2014 में नयी सरकार आई हैं, इन्हें शासन का अनुभव नहीं हैं लेकिन अब पता चल गया उन्हें बयान देने का भी कोई अनुभव नहीं हैं।

भाजपा पर हमलावर होते हुए कपिल सिब्‍बल ने कहा कि शायद आज ये हमले होते ही नहीं अगर जैश ए मोहम्मद पैदा नहीं होता। लेकिन जैश ए मोहम्मद को किसने पैदा किया? भाजपा ने। अगर मसूद अजहर को भाजपा ने रिहा न किया होता तो वो जैश ए मोहम्मद नहीं बना पाता। सिब्‍बल ने कहा कि आप उस कांग्रेस पर आतंकवाद का आरोप लगा रहे हो, जो 67 सालों से हमेशा अपनी सेना के जवानों के साथ खड़े होते आई है।

मोदी पर हमला करते हुए सिब्‍बल ने कहा कि पहले आप झप्पियां डालते हो, फिर अपना चाल और चलन बदल लेते हो। हम अच्छी तरह जानते हैं कि पाकिस्तान क्या है? क्या जरूरत थी वहां जन्मदिन मनाने की? क्‍यों आपका खास दोस्त पाकिस्तान में 4000 मेगावाट का बिजली कारखाना लगा रहा है। सिब्‍बल ने कहा कि शहीदों के परिवार और उनकी कुर्बानी के आंसू अभी सूखे भी नहीं थे। रक्षा मंत्री और प्रधानमन्त्री को उनके परिवारों के पास जाने और उनकी शहादत पर गौरव करने के बजाय आगरा से लेकर गोवा तक सम्मान कराने में व्‍यस्‍त हैं।

साथ ही साथ सिब्बल ने ये भी कहा कि जिन इंदिरा गांधी की तुलना अटल बिहारी वाजपेई देवी दुर्गा से करते थे आज आप उनके मूल पर सवाल उठा रहे हैं। ये पोस्टरबाजी बन्द करो, जो सेना की कामयाबी है उस पर राजनीति बन्द करो। सेना को चुपचाप अपना काम करने दो। सेना ने पहले भी किया था और करती भी आ रही है। गौरतलब है कि सीमा पार भारतीय सेना द्वारा किए गए सर्जिकल स्ट्राइक के बाद से देश में लगातार बहस जारी है।


राष्ट्रीय पर शीर्ष समाचार