बाबरी मस्जिद ध्वस्त करने के थे पुख्ता सुबूत: चिदंबरम

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2016-11-21 04:57:12
बाबरी मस्जिद ध्वस्त करने के थे पुख्ता सुबूत: चिदंबरम

मुंबई। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने बाबरी मस्जिद को लेकर चौकाने वाले खुलासे किए हैं। चिदंबरम ने कहा है कि बाबरी मस्जिद ध्वस्त करने के पुख्ता सुबूत होने के बावजूद इसे केंद्र के नियंत्रण में नहीं लाना नरसिंह राव सरकार की तरफ से ‘घातक भूल’ थी।

चिदंबरम ने कहा कि इस घटना से तत्कालीन प्रधानमंत्री राव ने पार्टी के कार्यकर्ताओं का विश्वास खो दिया था। चिदंबरम ने ये बात ‘टाटा लिटरेचर लाइव फेस्टिवल’ में ‘नरसिंह राव: द फॉरगॉटेन हीरो’ पर परिचर्चा के दौरान कही। उन्होंने बताया कि उस समय कई लोगों ने बाबरी ढांचे के उपर मंडरा रहे खतरे को लेकर नरसिंह राव को चेतावनी दी थी।

उन्होंने कहा कि यह बाबरी ढांचे को लेकर ये खतरा अचानक नहीं था। रामेश्वरम से पत्थर लाए जा रहे थे और वे ट्रेन से यात्रा कर रहे थे। समूची ट्रेन को बुक किया जा रहा था। हर कोई जानता था कि लाखों लोग जुटेंगे। बाबरी ढांचे को लंबे समय से खतरा था जो वहां कम से कम 1987-88 से था।

उन्होंने कहा, हर दिन सुबूत जमा हो रहा है। हम सब जानते हैं कि कारसेवकों को विदाई देने के लिए कार्यक्रम किए जा रहे थे। राजनीतिक फैसले वाला कोई भी व्यक्ति कह सकता था कि मस्जिद को गंभीर खतरा था और कहां से उनके पास कुल्हाड़ी और हथौड़े आए थे।


राष्ट्रीय पर शीर्ष समाचार