भाई दूज के दिन होती है भगवान चित्रगुप्त की पूजा

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2016-11-01 16:01:27
भाई दूज के दिन होती है भगवान चित्रगुप्त की पूजा

नई दिल्ली। भारत को त्योहारों का देश कहा जाता है। विश्व में समृद्ध संस्कृति और परम्पराओं के लिए भारत की अपनी विशिष्ट पहचान है। पूरे वर्ष यहां कोई न कोई पर्व-त्योहार मनाया जाता रहता है लेकिन चित्रगुप्त पूजा संभवत: एक ऐसा त्योहार है जिसे जाति विशेष के लोग ही मनाते हैं।

पौराणिक मान्यताओं के अनुसार, कायस्थ जाति को उत्पन्न करने वाले भगवान चित्रगुप्त का जन्म यम द्वितीया के दिन हुआ। इसी दिन कायस्थ जाति के लोग अपने घरों में भगवान चित्रगुप्त की पूजा करते हैं।

उन्हें मानने वाले इस दिन कलम और दवात का इस्तेमाल नहीं करते। पूजा के आखिर में वे सम्पूर्ण आय-व्यय का हिसाब लिखकर भगवान को समर्पित करते हैं। चित्रगुप्त का जन्म यम द्वितीया के दिन ही हुआ। हालांकि इसका कोई निश्चित प्रमाण नहीं है।