बर्थ-डे स्पेशल: कल्पना अय्यर से अमजद खान नहीं कर पाए थे शादी

Edited by: Editor Updated: 12 Nov 2016 | 12:28 PM
detail image

नई दिल्ली। फिल्म शोले से मशहूर हुए गब्बर का आज जन्मदिन है। अमजद खान का जन्म 12 नवंबर, 1940 में पाकिस्तान के पेशावर में दुआ था।

बता दें कि उन्‍हें कला विरासत के रूप में मिली थी। उनके पिता जयंत फिल्‍म इंडस्‍ट्री के खलनायक रह चुके थे। 27 जुलाई, 1992 में मुम्बई में अमजद खान ने आखिरी सांस ली थी। उनकी जिंदगी में काफी उतार चढ़ाव आए। शादी के अमजद खान को कल्‍पना अय्यर से प्यार हो गया। इन दोनों के प्यार के चर्चे काफी चर्चित थे।

बाहुबली निर्माताओं के घर इनकम टैक्स की रेड

दरअसल, कल्‍पना एक मॉडल थी। उन्‍होंने कॉमेडियन आईएस जौहर की फिल्म 'द किस' से अपने करियर की शुरुआत की थी। अमजद खान और कल्‍पना की प्‍यारी सी लवस्टोरी एक स्‍टूडियो से हुई थी, जहां दोनों अपनी-अपनी फिल्‍मों की शूटिंग के लिए पहुंचे थे। स्‍टूडियो की इस पहली ही मुलाकात में दोनों को एकदूसरे का साथ बेहद पसंद आया। धीरे-धीरे ये मुलाकातें प्यार में बदल गई। अमजद खान ऐसे व्‍यक्तित्व वाले इंसान थे, जिनसे मिलने के बाद हर शख्‍स उनसे प्‍यार कर बैठता था।

आपको बता दें कि धार्मिक तौर पर अमजद खान को अनुमति थी कि वह चार शादियां कर सकते थे, लेकिन उन्‍होंने ऐसा नहीं किया। अमजद कल्‍पना से बेहद मोहब्‍ब्‍त करते थे, लेकिन उन्‍हें अपना परिवार भी बहुत प्‍यारा था। वहीं, कल्‍पना ने भी कभी उनपर शादी का दबाव नहीं डाला, क्‍योंकि वे जानती थीं कि उनकी पत्‍नी शकीला है, उनके तीन बच्‍चे हैं।

मिली जानकारी के मुताबिक जब अमजद की मौत हुई थी तो कल्‍पना उनके घर गई थीं। बताया जाता है कि सबके मना करने के बावजूद भी कल्‍पना अमजद के घर गईं और बेवा की तरह शोक मनाया। ऐसे उन्‍होंने अपने प्‍यार को अंतिम विदाई दी। बता दें कि कल्‍पना अय्यर ने आज त‍क शादी नहीं की है।

अमजद खान ने अपने बीस साल के करियर में लगभग 130 फिल्‍मों में काम किया। फिल्‍म 'शोले' में गब्‍बर के किरदार ने उन्‍हें विशेष सफलता और लोकप्रियता दिलाई। इस फिल्‍म में उन्‍होंने कई दमदार डॉयलॉग बोले थे। उन्‍होंने 'मुकद्दर का सिकंदर', 'कालिया', 'लावारिस', 'बगावत', 'सत्‍ते पे सत्‍ता', 'सुहाग', 'मि. नटवरलाल', 'दौलत' और 'नसीब' जैसी फिल्‍मों में काम किया था।

वर्ष 1979 में फिल्‍म 'दादा' के लिए सर्वश्रेष्ठ सह कलाकार के फिल्म फेयर पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। इसके बाद उन्‍हें फिर वर्ष 1981 में फिल्‍म 'यराना' के लिए दूसरी बार सर्वश्रेष्ठ सह कलाकार के फिल्मफेयर पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया था। इस फिल्‍म में उन्‍होंने अमिताभ के दोस्‍त की भूमिका निभाई थी।