कालेधन को बीजेपी ने सफेद किया: मायावती

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2016-11-14 16:44:50
कालेधन को बीजेपी ने सफेद किया: मायावती

लखनऊ। गाजीपुर में बीजेपी की परिवर्तन यात्रा के बाद बसपा सुप्रीमो मायावती ने एक प्रेस कांफ्रेंस की। प्रेस कांफ्रेंस में बीजेपी पर निशाना साधते हुए मायावती ने कहा कि कार्यकर्ताओं द्वारा लाख कोशिशें करने के बाबजूद पीएम की रैली में 20 हजार लोग ही शामिल हुए।

बीजेपी द्वारा रैली में लोगों का हुजूम इकट्ठा करने के लिए गाड़ियां और ट्रेनें फ्री की गई इसके बाबजूद लोग बीजेपी की रैली की तरफ आकर्षित नहीं हुए।

ये भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश में दलित और मुस्लिम बनाएंगे मायावती की सरकार 

करेंसी बंदी पर मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए मायावती ने कहा कि मोदी सरकार ने अमीरों की मदद की है, अमीर आज भी चैन की नींद सो रहा है। यदि सरकार सचमुच भ्रष्टाचारियों के खिलाफ कार्रवाई करना चाहती थी तो उन्होंने विजय माल्या जैसे कारोबारी को भागने क्यों दिया?

ये भी पढ़ें: मायावती के सिर पर होगा यूपी का ताज: एक्सक्लुसिव सर्वे 'हिन्दी ख़बर' 

उन्होंने आगे कहा कि केंद्र सरकार के इस कदम से गरीबों को किसी तरह का कोई फायदा नहीं होगा, गरीब कभी भी चैन की नींद नहीं सो पाया है। लोकसभा चुनावों के दौरान कालाधन वापस लाने के वादे को याद दिलाते हुए मायावती ने कहा कि मोदी अभी तक अपना वो वादा पूरा नहीं कर पाए है।

ये भी पढ़े: मायावती के खिलाफ चुनाव लड़ेंगी राखी सावंत 

करेंसी बंदी से आम जनता को हो रही परेशानी पर केंद्र की मोदी सरकार को निशाना बनाते हुए मायावती ने कहा कि एटीएम में पैसा नहीं है, बैंक में लंबी लाइनें लगी हुई है जिससे आम जनता को परेशानी हो रही है।

बसपा सुप्रीमो ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री बात-बात पर भावुक होकर लोगों को भावनात्मक तौर पर ब्लैकमेल करने का प्रयास करते रहते हैं। इससे पहले बर्बर ऊना काण्ड के मामले में भी उन्होंने काफी भावुक होकर बहुत कुछ आश्वासन दलित व अन्य वर्गों को दिया था। लेकिन भावुक होने से दलित उत्पीड़न का कोई समाधान नहीं निकल पाया।

 


उत्तर प्रदेश पर शीर्ष समाचार