बरड़ जल विद्युत परियोजना हुई ठप्प

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2016-11-11 17:04:10
बरड़ जल विद्युत परियोजना हुई ठप्प

देहरादून। सीमांत जिले के थल क्षेत्र में स्थित बरड़ जल विद्युत परियोजना की दूसरी टरबाइन भी खराब होने से बिजली उत्पादन ठप हो गया है। कुछ समय पहले परियोजना की एक टरबाइन में खराबी आ गई, जिससे अब तक ठीक नहीं किया जा सका है। अब दूसरी टरबाइन के खराब होने परियोजना पूरी तरह से ठप हो गई है। आपको बता दें कि परियोजना से उत्पादित होने वाली बिजली थल कस्बे और आस-पास के गांवों को उपलब्ध कराई जाती है।

बरड़ गाड़ में पर्याप्त पानी की उपलब्धता को देखते हुए वर्ष 1995 में बरड़ जल विद्युत परियोजना का निर्माण कराया गया। 750 किलोवाट की इस परियोजना में 375-375 किलोवाट की दो टरबाइन लगाई गई है। जिससे आस पास बसे गांव को बिजली से रोशन किया जा रहा था, लेकिन दोनों टरबाइन खराब होने से अब उपभोक्ताओं को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।  

योजना का संचालन उत्तराखंड लघु जल विद्युत निगम को सौंपा गया था। तीन साल पहले लिए गए एक फैसले के बाद इस परियोजना को उरेडा को सौंप दिया गया। उरेडा इसका संचालन एक ठेकेदार के माध्यम से कर रही है। ऐसे में आरोप लग रहे हैं कि विभागीय उदासीनता के चलते परियोजना में बार-बार उत्पादन ठप हो रहा है। 

 


उत्तराखंड पर शीर्ष समाचार