ताजमहलः CISF ने विदेशी सैलानियों के उतरवाए भगवा दुपट्टे, मचा बवाल

Edited by: Web_team Updated: 21 Apr 2017 | 03:53 PM
detail image

आगरा। 34 देशों से ताजमहल का दीदार करने आई मॉडल्स के दुपट्टे उतरवाने की घटना सामने आई है। दरअसल, मॉडल्स ने धूप से बचने के लिए भगवा ‘रामनामी’ दुपट्टा ओढ़ रखा था। जिन्हें सीआईएसएफ और एएसआई ने नियमों का हवाला देकर इनके दुपट्टे गेट पर ही रखवा लिए।

सीआईएसएफ और एएसआई ने इसके पीछे यह तर्क दिया कि ताजमहल में धार्मिक प्रतीक चिह्न और पूजा सामग्री पर रोक है। जांच के दौरान गाइड ने सभी मॉडल को ताज में प्रतिबंधित सामग्री की जानकारी दी।

यह भी पढ़ें-मोदी की पत्नी जसोदाबेन ने मथुरा में किए दर्शन,फिर झांसी रवाना

मीडिया में यह खबर आई, तो गुरुवार को हिंदू संगठनों के कार्यकर्ता सक्रिय हुए और घटना के विरोध में सड़क पर उतर आए। हिंदू जागरण मंच के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने मॉल रोड स्थित पुरातत्व विभाग के कार्यालय के बाहर जमकर नारेबाजी की

वहीं, भाजपा की युवा इकाई भारतीय जनता युवा मोरचा (भाजयुमो) और हिंदू जागरण मंच जैसे हिंदूवादी संगठनों ने घटना के विरोध में शनिवार को भगवा कपड़े पहन कर ताजमहल में घुसने का ऐलान किया है। वहीं, आगरा भाजपा के अध्यक्ष विजय शिवहरे ने सवाल पूछा कि क्या उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ताजमहल आएंगे, तो उनके भी कपड़े उतरवाए जाएंगे?

यह भी पढ़ें-अंबेडकर जयंती की शोभायात्रा पर लोगों ने किया पथराव,मची अफरा-तफरी

इस घटना पर हिंदू मंच के नेताओं ने कहा कि ताजमहल में विदेशी मेहमानों के साथ जो व्यवहार किया गया, यह भारतीय संस्कृति का अपमान है। विदेशी मेहमानों पर इसका क्या असर होगा? अधीक्षण पुरातत्वविद् ने मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं।