सीएम हाउस का हो रहा है शुद्धिकरण, खरमास के बाद योगी करेंगे एंट्री

Edited by: Shiwani_Singh Updated: 20 Mar 2017 | 02:47 PM
detail image

लखनऊ। यूपी का सीएम बनने के बाद योगी आदित्यनाथ अभी मुख्यमंत्री आवास में नहीं रह रहे। नवरात्र तक VVIP गेस्ट हाउस में ही योगी का आशियाना रहेगा। वहीं, मुख्यमंत्री आवास में योगी के ग्रह प्रवेश से पहले उसका शुद्धीकरण किया जाएगा।

यह भी पढ़ें-एक्शन में योगीः यूपी का CM बनने के बाद किए पांच बड़े ऐलान

आवास में पहले पूजा-हवन और रुद्राभिषेक करने की भी तैयारी की गई । पांच कालिदास मार्ग में पुरोहितों की टीम पूजा पाठ में लगी हुई है। मुख्यमंत्री आवास पर नेम प्लेट तो बदल चुकी है। अखिलेश की जगह आदित्यनाथ योगी का नाम लग चुका है, लेकिन योगी अभी इसमें नहीं रह रहे हैं। फिलहाल वीवीआईपी गेस्टहाउस ही लखनऊ में योगी का ठिकाना है।

पूजा और रुद्राभिषेक के लिए विशेष रूप से गोरखपुर से सात पुरोहितों की एक टीम सोमवार सुबह करीब साढ़े नौ बजे के आसपास सरकारी आवास पहुंच गई। पुरोहितों ने पहले आवास के हर कमरे और परिसर का मुआयना किया और वास्तु के हिसाब से पूजा के लिए जगह तय की।

यह भी पढ़ें-मुख्यमंत्री आवास पर योगी का नेमप्लेट, शुद्धिकरण के बाद करेंगे प्रवेश

यह पूजा करीब तीन घंटे तक होगी। पूजा के दौरान गंगाजल, गौमूत्र और तमाम पूजा सामग्री से हवन और शुद्धीकरण किया जाएगा। सूत्रों के मुताबिक पूजा की सामग्री और पूजा में इस्तेमाल होने वाली वस्तुएं भी पुरोहित अपने साथ गोरखपुर से ही लाए हैं।

ख़बर है कि इस बीच योगी आदित्यनाथ भी सरकारी आवास पर आकर मुआयना करेंगे, जिसके चलते आवास और आसपास सुरक्षा बढ़ा दी गई है। साथ ही योगी सरकारी आवास पर एक मंदिर स्थापित करना चाहते हैं, जिसके लिए भी वो पुरोहितों से सलाह करेंगे।

यह भी पढ़ें-CM योगी की पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस, सभी मंत्रियों से मांगा संपत्ति का ब्योरा

माना जा रहा है कि पूजा, हवन और शुद्धीकरण के बाद भी योगी फौरन सरकारी आवास में शिफ्ट नहीं होंगे। इसके लिए कोई शुभ दिन तय किया जाएगा, जिसके बाद मुख्यमंत्री के तौर पर योगी आदित्यनाथ अपने सरकारी आवास में ग्रह प्रवेश करेंगे। बता दें कि रविवार को शपथ ग्रहण और कार्यभार ग्रहण करने के बाद योगी रात को वीवीआईपी गेस्ट हाउस में ही रुके थे।