लखनऊ के KGMU ट्रामा सेंटर में लगी आग, CM YOGI करेंगे दौरा

Edited by: Editor Updated: 16 Jul 2017 | 11:42 AM
detail image

लखनऊ। किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) के ट्रामा सेंटर में कल रात लगी भीषण आग के कारण वहां से शिफ्ट सात मरीजों की मौत से दुखी प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज वहां का दौरा कर रहे हैं। मुख्यमंत्री के आज केजीएमयू के ट्रामा सेंटर में आगमन पर वहां सुरक्षा व्यवस्था काफी कड़ी कर दी गई है।

यह भी पढ़ें- विधानसभा में मिला विस्फोटक,CM YOGI ने की NIA जांच की मांग

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के दौरे के कारण ट्रामा सेंटर में अब किसी का भी प्रवेश बंद कर दिया गया है। उसको छावनी में बदल दिया गया है। मीडिया के प्रवेश पर भी बैन लगा दिया गया है। माना जा रहा है कि सीएम वहां मौजूद डॉक्टर्स के साथ ही मरीजों से भी आग का कारण पूछ सकते हैं।

ट्रामा सेंटर के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ लारी कार्डिलियोजी में लखनऊ के कार्यवाहक महापौर सुरेश अवस्थी को भी देखने गए। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पैदल चलकर ट्रामा से शताब्दी अस्तपाल पहुंचे। इसके बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ डॉ. राममनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान, गोमतीनगर भी जाएंगे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के ट्रामा सेंटर का निरीक्षण करने की सूचना से ही जिला तथा पुलिस प्रशासन हाई अलर्ट पर है। ट्रामा सेंटर में भारी संख्या में पुलिसबल मौजूद है। ट्रामा सेंटर में फिलहाल किसी को प्रवेश की अनुमति नहीं है।

यह भी पढ़ें- सदन में विस्फोटक मिलना गंभीर चिंता का विषय, मामले की जांच NIA करे: CM YOGI

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के ट्रामा सेंटर आने की सूचना पर प्रमुख सचिव स्वास्थ्य के बाद चिकित्सा शिक्षा मंत्री आशुतोष टंडन 'गोपाल' भी वहां पहुंच गए। उन्होंने केजीएमयू के कुलपति प्रो भट्ट तथा मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ. शंखवार से वार्ता भी की।यहां पर कल रात में आग लगने के कारण मची भयंकर अफरातफरी में सात लोगों ने दम तोड़ दिया। जिनमें दो बच्चे भी शामिल हैं।

प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा अनीता जैन भटनागर ने बताया कि आग लगने के कारण ट्रामा सेंटर से मरीजों को शहर में आठ जगह पर शिफ्ट किया गया। इनमें डॉ. राम मनोहर लोहिया अस्तपाल के साथ सिविल अस्पताल व बलरामपुर अस्तपाल भी हैं। उन्होंने कहा कि अभी वहां पर क्या कमियां रहीं इसको नहीं बताया जा सकता। जहां पर आग लगी वहां पर बच्चे भी भर्ती थे।

यह भी पढ़ें- मेड को बंधक बनाने के आरोप में नोएडा सेक्टर 78 के पॉश इलाके में पत्थरबाजी

तत्काल मरीजों को आठ जगह शिफ्ट किया गया। वहां पर तड़के ही चिकित्सा सुविधा बहाल कर दी गई है। अब हालात काबू में हैं। तीन मरीजों को गंभीर हालत में डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी (सिविल) अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उनका उपचार चल रहा है।किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के ट्रामा सेंटर में आग लगने की सूचना पर गृह मंत्री तथा लखनऊ के सांसद राजनाथ सिंह ने केजीएमयू के कुलपति से फोन पर वार्ता की। केजीएमयू के वीसी ने मीडिया में अभी कुछ भी बोलने से मना किया है।