7 लाख नौकरियां लाएगी केंद्र सरकार, 600 विदेशी कंपनियां भारत में करेंगी निवेश

Edited by: Ankur_maurya Updated: 16 Oct 2017 | 05:17 PM
detail image

नई दिल्ली। रोजगार को लेकर केंद्र की मोदी सरकार पर लगातार सवाल खड़े हो रहे हैं और विपक्ष ने इस मुद्दे को लेकर जमकर हमला बोल रखा है। इसी बीच सरकार के लिए एक राहत की ख़बर है। चीन की सैनी हेवी इंडस्ट्री सहित करीब 600 कंपनियां अगले 5 साल में भारत में लगभग 85 अरब डॉलर निवेश की योजना बना रही हैं जो करीब 7 लाख रोजगार के अवसर पैदा होंगे।

सरकार इंवेस्ट इंडिया नीति के तहत देश को निवेश के लिए एक आकर्षक जगह के रूप में बेहतर ढंग से पेश करने की तैयारी है। इंवेस्ट इंडिया के MD दीपक बागला ने बताया की ऐसी 200 कंपनियों की लिस्ट बनाई है, जो अभी भारत में कारोबार नहीं कर रही हैं।

बागला ने कहा कि हम अगले 2 वर्षों में 100 अरब डॉलर विदेशी निवेश का लक्ष्य पाना चाहते हैं। इसमें नई और पहले से चल रही, दोनों तरह की परियोजनाओं में निवेश शामिल है। वित्त वर्ष 2017 के दौरान भारत में सबसे ज्यादा 43 अरब डॉलर विदेशी निवेश हुआ है। दुनिया की बड़ी इंजिनियरिंग मशीनरी मैन्युफैक्चरर्स में शामिल चीन की सैनी हेवी इंडस्ट्री भारत में 9.8 अरब डॉलर निवेश करना चाहती है।

एनर्जी और वेस्ट मैनेजमेंट के क्षेत्र में इन कंपनियों ने सबसे ज्यादा रुचि दिखाई है। इसके बाद कंस्ट्रक्शन और ई-कॉमर्स का नंबर है। भारत में निवेश के अधिकतर प्रस्ताव (42 फीसद) चीन से मिले हैं। इसके बाद अमेरिका से 24 फीसद, और 11 फीसदी इंग्लैंड से मिले हैं।