Disable ADBlock and Click Here to Reload The Page

बांग्लादेश को लुभाने के लिए चीन करेगा 20 अरब डॉलर का निवेश

Edited By: Editor
Updated On : 2016-10-15 10:39:30
बांग्लादेश को लुभाने के लिए चीन करेगा 20 अरब डॉलर का निवेश
बांग्लादेश को लुभाने के लिए चीन करेगा 20 अरब डॉलर का निवेश

ढाका। भारतीय बाजार में चीनी उत्पादों के बहिष्कार के बाद भी चीन का अड़ियल रूख बरकरार है। एक ओर जहां NSG की सदस्यता और मसूद अजहर के मामले में भारत के प्रति चीन के रुख में कोई नर्मी नहीं आई है, वहीं दूसरी ओर चीन ने बांग्लादेश के साथ बिजली, सड़क और रेलवे लाइन के क्षेत्र में 27 समझौतों पर हस्ताक्षर किए।

शुक्रवार को बांग्लादेश के दौरे पर पहुंचे चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना के साथ इन समझौतों पर हस्ताक्षर के बाद बांग्लादेश को चीन का अच्छा दोस्त बताया। शी ने कहा कि चीन-बांग्लादेश संबंध एक आशाजनक भविष्य की तरफ बढ़ रहे हैं। बांग्लादेश में भारत के प्रभाव को कम करने के लिए चीन ने बांग्लादेश में 20 अरब अमेरिकी डॉलर के निवेश को मंजूरी दे दी है।

चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग की भारत यात्रा की पूर्वसंध्या पर चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि मसूद अजहर और भारत की NSG सदस्यता की मुहिम के मामले में चीन के रुख में कोई बदलाव नहीं होगा। आपको बता दें कि चीन ने आतंकी मसूद अजहर पर बैन लगाने का यूएन में विरोध किया था।

गोवा में शनिवार से 8वीं ब्रिक्स सम्मेलन होगा। चीन के राष्ट्रपति शनिवार को ब्रिक्स सम्मेलन में भाग लेने गोवा पहुंचेंगे। चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गेंग शुआंग ने कहा कि कुछ विवादों के बावजूद भारत-चीन के संबंधों में उल्लेखनीय प्रगति हुई है, पर एनएसजी और अजहर के मुद्दे पर चीन के रुख में कोई बदलाव नहीं आया है।

गौरतलब है कि पिछले 30 सालों में ये किसी भी चीनी राष्ट्रपति ने पहली बार बांग्लादेश का दौरा किया है।


दुनिया पर शीर्ष समाचार


x