बंगाल में सेना की तैनाती पर संसद में मचा हंगामा, रक्षामंत्री ने दिया जवाब

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2016-12-02 13:03:16
बंगाल में सेना की तैनाती पर संसद में मचा हंगामा, रक्षामंत्री ने दिया जवाब

नई दिल्ली। नोटबंदी को लेकर संसद में चल रहे हंगामें के बीच लोकसभा में तृणमूल कांग्रेस के सांसदों ने बंगाल में सेना की हलचल का मुद्दा उठाया। जिसके जवाब में रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा कि सेना को राजनीति में घसीटना गलत है, यह एक रुटीन अभ्यास है इसको मुद्दा बनाना गलत है।

मनोहर पर्रिकर बोले कि यह अभ्यास पुलिस के साथ मिलकर किया गया है, ऐसा ही अभ्यास 19, 21 नवंबर 2015 को भी हुआ था। पर्रिकर ने कहा कि ममता के सेना पर लगाए गए इन आरोपों से दुख हुआ है। यह मुद्दा राजनीतिक हताशा के कारण उठाया गया है।

यह भी पढ़ें- टोल प्लाजा पर सेना तैनात करने से भड़की ममता ने सचिवालय में डाला डेरा

आपको बता दें कि सेना के मेजर जनरल सुनील यादव ने भी आरोपों को नकारते हुए कहा है कि ममता बनर्जी के आरोप आधारहीन है, यह एक रुटीन अभ्यास है पिछले साल भी हमनें यहां अभ्यास किया था।

वहीं, बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि बंगाल की सीएम के साथ ज्यादती हो रही है। ये संविधान पर बहुत बड़ा हमला है। सेना का राजनीतिकरण नहीं करना चाहिए। वहीं वेंकैया नायडू ने कहा कि यह एक संवेदनशील मामला है, क्योंकि यह सेना से संबंधित है। हमें महत्वपूर्ण मुद्दों को पटरी से नहीं उतारना चाहिए।

यह भी पढ़ें- सोने पर भी सर्जिकल स्ट्राइक, अब सोना रखने पर भी लगेगा टैक्स

कांग्रेस के गुलाम नबी आजाद ने कहा कि यह अलग तरह का मामला दिखता है। सेना टोल एकत्र नहीं करती है? पश्चिम बंगाल में सेना को तैनात करने को लेकर कोई कानून-व्यवस्था नहीं है।


राष्ट्रीय पर शीर्ष समाचार