ई-कॉमर्स वेबसाइट ने बंद किया ‘कैश ऑन डिलिवरी ऑप्शन’

Edited by: Editor Updated: 09 Nov 2016 | 05:31 PM
detail image

नई दिल्ली। लोगों को 500 और 1000 रुपए के नोट बंद होने के बाद ज्यादा मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा हैं। इसी बीच ई-कॉमर्स कंपनियों ने मौके को भांपते हुए कैश ऑन डिलिवरी ऑप्शन बंद कर दिया है। यानी अब आप कोई सामान ऑर्डर करेंगे तो आपको डेबिट, क्रोडिट या इंटरनेट बैंकिंग से पेमेंट करना होगा। अब ज्यादातर छोटे ट्रांजेक्शन के लिए लोग डिजिटल वॉलेट जैसे पेटीएम और फ्रीचार्ज न चाहते हुए भी यूज करने पर मजबूर होंगे। इसके सीधा फायदा पेटीएम जैसी कंपनियों को होगा।

बता दें कि स्नैपडील ने तो पेमेंट के दौरान यह मैसेज देना शुरू किया है कि सरकार के नए फैसले के बाद कैश ऑन डिलिवरी ऑर्डर के लिए 500 और 1000 रुपये के नोट नहीं लिए जाएंगे। ई-कॉमर्स कंपनियों के अलावा अब कैब कंपनियों ने भी नोटिफिकेशन भेजकर लोगों को बताना शुरू कर दिया हैं। कि वो कैश नहीं लेंगे।

वहीं,  फूड ऑर्डर सर्विसों जैसे जोमैटो और स्वीगी ने भी साफ तौर पर लोगों से इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट करने को कहा है। साथ ही बता दें कि स्वदेशी ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट पर फिलहाल 2.000 से ऊपर के सामान पर कैश ऑन डिलिवरी का ऑप्शन नहीं मिल रहा है। इसके अलावा स्नैपडील और अमेजॉन ने भी फिलहाल के लिए कैश ऑन डिलिवरी ऑप्शन बंद कर दिया है।