'सौभाग्य' से 2018 तक हर घर होगा रोशन: PM मोदी

Edited by: PoojaDevi Updated: 26 Sep 2017 | 08:16 AM
detail image

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को दिल्ली में दीनदयाल उपाध्याय की जन्मशती पर 'सौभाग्य योजना' का शुभारंभ किया। इस योजना के तहत 2018 तक देश के हर गांव में बिजली पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है।

इस योजना का शुभारंभ करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि वो खुद दीए की रोशनी में पढ़ते थे। इसलिए वो उन लोगों की परेशानी समझते हैं, जिनके घरों में बिजली नहीं होती। अंधेरे में जीवन बिताना कितना मुश्किल होता है, ये मैं जानता हूं।

रिपोर्ट के अनुसार सौभाग्य योजना के तहत केंद्र सरकार ने 16,320 करोड़ रूपए का बजट रखा है। इस योजना के लिए बैंकों से 30 प्रतिशत, 10 प्रतिशत राज्य सरकारों से और बाकी का 60 प्रतिशत खर्च केंद्र सरकार उठाएगी। इस योजना को सफल बनाने के लिए सरकार की ओर से लोगों के घर-घर जाकर बिदली कनेक्शन लगाया जाएगा। इस तरह जिन लोगों के घर में बिजली नहीं है, उन सभी के घर में बिजली कनेक्शन लगाया जाएगा।

बताया जा रहा है कि सौभाग्य योजना के तहत देश के दूरदराज इलाकों में जहां हर घर में बिजली का कनेक्शन पहुंचाना बहुत मुश्किल है, वहां घरों को रोशन करने के लिए केंद्र सरकार की ओर से सौर ऊर्जा का प्रबंध किया जाएगा और लोगों को बैटरी, 5 LED लाइट और एक पंखा भी दिया जाएगा।

बता दें कि बीजेपी 2019 के आम चुनाव की तैयारियों में जुट चुकी है। माना जा रहा है कि सौभाग्य योजना को लागू करके बीजेपी जनता का भरोसा जीतना चाहेगी और आगामी लोकसभा चुनावों में इसका फायदा उठाना चाहेगी।