Film Review: एक पल में जिंदगी जीने की कहानी है 'कालाकांडी'

Edited by: PoojaDevi Updated: 12 Jan 2018 | 05:57 PM
detail image

मुंबई। बॉलीवुड स्टार सैफ अली खान स्टारर फिल्म 'कालाकांडी' आज सिनेमाघरों में रिलीज हो गई है। सैफ अली खान को काफी समय से एक बड़ी हिट की फिल्म की तलाश है। ये फिल्म सैफ की इस तलाश को पूरी कर पाएगी या नहीं, ये तो समय आने पर ही पता चलेगा।

कहानी

कहानी की बात करें तो फिल्म की कहानी मुंबई की पृष्ठभूमि पर आधारित है, जहां रिलीन (सैफ अली खान) अपने डॉक्टर से मिलता है जो उसे बताता है कि उसे बड़ी गहन बीमारी है, जबकि रिलीज ने कभी भी सिगरेट या शराब नहीं पी। उसी रात रिलीन को अंगद (अक्षय ओबेरॉय ) की शादी में जाना होता है, जहां पहुंचकर वह सिगरेट और नशा करना शुरू कर देता है, क्योंकि उसे लगता है कि बहुत कम दिन उसकी जिंदगी में बचे हैं।

दूसरी तरफ एडवांस कपल (कुणाल रॉय कपूर और सोभिता धूलिपाला) अपने दोस्त (शहनाज) के बर्थडे की पार्टी में जाते हैं, जहां अचानक से पुलिस की रेड पड़ती है और कई लोग पकडे जाते हैं। इसी बीच हफ्ता वसूली करने वाले दो दोस्त (दीपक डोबरियाल और विजय राज) भी एक जगह से वसूली करके अपने बॉस को पैसे देने जाते हैं।

अभिनय
अभिनय की बात करें तो दीपक डोबरियाल और विजय राज का अभिनय हमेशा की तरह किरदार के मुताबिक रहा है। सोभिता धूलिपाला, कुणाल रॉय कपूर भी अपने किरदार में जंचे हैं। वहीं, सैफ अली खान इस फिल्म में काफी खुलकर काम करते हुए नजर आते हैं और किरदार में काफी कम्फर्टेबल भी दिखाई देते हैं।

बता दें कि फिल्म में सभी किरदारों ने बेहतरीन तरीके से अपने अभिनय का प्रदर्शन किया है। फिल्म की कहानी कुछ डेली बेली जैसी है, डायलॉग्स और भाषा थोड़े रफ हैं, लेकिन ओवरओल बात की जाए तो ये फिल्म युवाओं को पसंद आ सकती है। खास बात फिल्म को 'ए' सर्टिफिकेट दिया गया है।