भारत में जल्द लागू हो सकता है Real Estate पर GST, जेटली ने दिए संकेत

Edited by: Web_team Updated: 12 Oct 2017 | 01:53 PM
detail image

नई दिल्ली। केन्द्रीय वित्त मंत्री अरूण जेटली ने हावर्ड विश्विद्यालय में अपने एक बयान में कहा कि रियल एस्टेट एक ऐसा क्षेत्र है जहां सबसे ज्यादा कर चोरी होती है इसलिए इसे जीएसटी के दायरे में लाने का मजबूत आधार है। जेटली ने हार्वर्ड विश्वविद्यालय में व्याख्यान देते हुए कहा कि इस मामले पर 9 नवंबर को गुवाहाटी में होने वाली जीएसटी की अगली बैठक में इस पर चर्चा की जाएगी।

जेटली ने 'वार्षिक महिन्द्रा व्याख्यान' में कहा, ''भारत में रियल एस्टेट एक ऐसा क्षेत्र है जहां सबसे ज्यादा कर चोरी और नकदी पैदा होती है और वह अब भी जीएसटी के दायरे से बाहर है। कुछ राज्य इस पर जोर दे रहे हैं। मेरा व्यक्तिगत तौर पर मानना है कि जीएसटी को रियल एस्टेट के दायरे में लाने का मजबूत आधार है।''

जेटली ने कहा कि भारत सरकार बैंकिंग क्षेत्र की क्षमता के पुनर्निर्माण की योजना पर काम कर रही है ताकि ये विकास में योगदान दे सके। जेटली अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष और विश्व बैंक की सालाना बैठकों में शामिल होने के लिए हफ्तेभर के अमेरिकी दौरे पर हैं। उन्होंने यह भी कहा कि बैंकिंग प्रणाली में सुधार सरकार का शीर्ष एजेंडा है।

बोस्टन में हार्वर्ड विश्वविद्यालय के छात्रों से जेटली ने कहा, आज वैश्विक विकास की दिशा बदल गई है, ऐसे में हम बैंकिंग से संबंधित हालात से निबटने के लिए वास्तविक योजना को अमल में लाने पर काम कर रहे हैं. हमें (बैंकिंग क्षेत्र) क्षमता का पुनर्निर्माण करना होगा।