गायत्री प्रजापति के खिलाफ दर्ज हो गैंगरेप का FIR: सुप्रीम कोर्ट

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2017-02-17 04:02:54
गायत्री प्रजापति के खिलाफ दर्ज हो गैंगरेप का FIR: सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली। यूपी चुनाव से पहले सपा को झटका लगने का दौर जारी है। अखिलेश सरकार में मंत्री और अमेठी से पार्टी के उम्मीदवार गायत्री प्रजापति के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट ने गैंगरेप और यौन उत्पीड़न में एफआईआर दर्ज करने के आदेश दिए हैं। सर्वोच्च न्यायालय ने इस मुद्दे पर यूपी सरकार से आठ हफ्तों के भीतर जवाब मांगा है।

यह भी पढ़ें- पीएम मोदी जनता को गुमराह कर रहे हैं: मायावती

बता दें कि प्रजापति इस समय यूपी कैबिनेट में परिवहन मंत्री हैं। 35 वर्षीय पीड़िता उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज न होने पर सुप्रीम कोर्ट गई थी। उसका कहना था कि उसके साथ गैंगरेप हुआ और उसकी बेटी का भी यौन उत्पीड़न किया गया। सुप्रीम कोर्ट ने इस मुद्दे पर तुरंत एफआईआर दर्ज करने के आदेश दिए हैं।

यह भी पढ़ें- कमल वालों ने मेरे और परिवार के बीच झगड़ा करवाया: अखिलेश

वहीं, गायत्री प्रजापति पर आय से अधिक संपत्ति रखने, अवैध कब्जे, अवैध खनन सहित कई संगीन आरोप लग चुके हैं। कुछ महीने पहले उन्हें अखिलेश यादव ने मंत्रिमंडल से बर्खास्त कर दिया था। हालांकि मुलायम के दबाव में अखिलेश को दोबारा उन्हें सरकार में शामिल करना पड़ा।

यह भी पढ़ें- अखिलेश का शिवपाल पर निशाना, कहा- मेरी ईमानदारी है जो हिसाब नहीं मांग रहा हूं

जानकारी के मुताबिक, पीड़िता चित्रकूट की रहने वाली है और उसका आरोप है कि प्रजापति ने सपा में अच्छा पद दिलाने का लालच देकर उसे अपने जाल में फंसाया और पिछले दो साल में कई बार उसके साथ गैंगरेप किया।


उत्तर प्रदेश पर शीर्ष समाचार