Disable ADBlock and Click Here to Reload The Page

फैसला लेने से पहले किसानो के बारे में सोचना था :अखिलेश यादव

Edited By: Editor
Updated On : 2016-11-09 15:07:40
फैसला लेने से पहले किसानो के बारे में सोचना था :अखिलेश यादव
फैसला लेने से पहले किसानो के बारे में सोचना था :अखिलेश यादव

लखनऊ। आधी रात को लिए गए मोदी द्वारा 500, 1000 के नोट बंद करने के फैसले पर हर कोई अपनी-अपनी तरह से इस पर टिप्पणी कर रहा है। फिर चाहे वो आम आदमी हो या फिर कोई नेता, सभी ने इस पर अपनी राय देनी शुरू कर दी है। ममता बनर्जी के बाद अब यूपी के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी इस पर अपनी राय रखी।

रिपोर्ट के मुताबिक लखनऊ में अखिलेश यादव ने भी पुराने नोटों के बंद हो जाने पर कहा कि केन्द्र सरकार को इस फैसले को लेने से पहले गांव में रह रहे लोगों, किसानों के बारे में भी सोचना चाहिए था। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार को ऐसे इलाकों में पुराने नोट बदलने के लिए अलग से शिविर लगाने चाहिए।

मीडिया से मुखातिब होते हुए अखिलेश ने कहा कि गांवों में बैंको की उपयुक्त शाखाओं की कमी होने के कारण लोगों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है, इसलिए जरूरी है कि मोदी सरकार को इस मुद्दे पर सोचना चाहिए।

 

 

 

 


राष्ट्रीय पर शीर्ष समाचार


x