हनुमान जयंती: इन कार्यों को करने से मंगल होगा आपका जीवन

Edited by: Web_team Updated: 11 Apr 2017 | 09:13 AM
detail image

नई दिल्ली। आज चैत्र मास की पूर्णिमा तिथि पर हनुमान जी की जयंती मनाई जाएगी। मगंलवार का दिन हनुमान जी के जन्म दिवस पर बेहद शुभ है। अगर इस दिन हनुमान जी की कृपा हो जाएं तो शनिदेव और मंगलदेव भी प्रसन्न हो जाते हैं। इस तरह आपका जीवन मंगलमय हो जाता है।

ज्योतिषशास्त्र के अनुसार सूर्य व राहु के दोषों के निवारण हेतु हनुमान आराधना विशेष मानी जाती है। चैत्र मास की पूर्णिमा पर हस्त नक्षत्र मिलने पर हनुमान जयंती का आध्यात्मिक प्रभाव बढ़ जाता है। इस दिन विशेष रूप से की गई हनुमान साधना रोग, शोक व दुखों को मिटाकर विशिष्ट फल देती है।

ज्योतिषशास्त्र के अनुसार, आज 5 बजे के बाद इन कार्यों को करने से हनुमान जी की विशेष कृपा प्राप्त होगी। इसलिए इन कार्यों को आवश्य करें।

पारद शिवलिंग, पुरुषाकार शनि यंत्र की स्थापना करें। काले घोड़े की नाल घर या दुकान में लगाएं।

यह भी पढ़ें- ऐसे करें प्रभु श्रीराम को खुश

हनुमान जी ब्रह्मचारी हैं और इसी वजह से उनका चित्र बैडरूम में नहीं बल्कि घर के मंदिर में या किसी अन्य पवित्र स्थान पर रखें।

खजूर और हनुमान चालीसा को नए लाल कपड़े में बांधे और शाम 5 बजे के बाद हनुमान मंदिर में चढ़ाएं।

घर पर पीपल के पत्तों की माला बनाएं, उन पर कुमकुम से श्रीराम लिख कर हनुमान जी को अर्पित करें।

शुद्ध घी के लड्डू बनाकर हनुमान जी को भोग लगाएं।

हनुमान जी के चित्रपट अथवा प्रतिमा पर नीले फूलों की माला चढ़ाएं।

पान के पत्ते पर कत्था लगाकर हनुमान जी को अर्पित करें।

हनुमान जी के मंदिर में लौकी चढ़ाने से भी इनकी विशेष कृपा प्राप्त होती है।

दूध में शहद मिलाकर हनुमान जी के चित्र पर भोल लगाएं।

यह भी पढ़ें- कन्या पूजन के साथ धूमधाम से मनाई गई रामनवमी

हनुमान जी के मंदिर में 7 केले चढ़ाएं।

हनुमान जी को गुड़ चने का प्रसाद चढ़ाएं।

पीपल के नीचे उत्तराभिमुख होकर तेल का दीपक जला कर मध्यकाल में 11 पाठ हनुमान चालीसा के करें।

नीले कपड़े में तिल बांधकर हनुमान जी के मंदिर में चढ़ाएं।
उपर्युक्त कार्यों को करने से हनुमान जी प्रसन्न होते हैं और उनकी विशेष कृपा मिलती है। इसलिए आज हनुमान जी की जयंती के अवसर पर इन कार्यों को आवश्य करें।