Disable ADBlock and Click Here to Reload The Page

अपने हमवतन का रिकॉर्ड तोड़ हसन अली बने 14 महीनों में नंबर-1 गेंदबाज

Edited By: Anuj
Updated On : 2017-10-22 15:39:42
अपने हमवतन का रिकॉर्ड तोड़ हसन अली बने 14 महीनों में नंबर-1 गेंदबाज via
अपने हमवतन का रिकॉर्ड तोड़ हसन अली बने 14 महीनों में नंबर-1 गेंदबाज

नई दिल्ली। क्रिकेट की दुनिया में पाकिस्तान को बेहतरीन गेंदबाज पैदा करने लिए जाना जाता है। पाक की धरती पर एक से एक बढ़कर गेंदबाजों ने जन्म लिया है, जिन्होंने विश्व के दिग्गज बल्लेबाजों की नाक में दम किया है।

वसीम अकरम, वकार युनुस, शोएब अख्तर और मोहम्मद आमिर इस बात का उहाहरण है। इसी कड़ी में एक नाम और जुड़ गया है। इस गेंदबाज का नाम हसन अली है। हसन अली अपनी शानदार गेंदबाजी के दम पर मात्र 14 महीने में नंबर-1 का स्थान काबिज कर लिया है।

यह भी पढ़े- न्यूजीलैंड के खिलाफ पहली बार नए नियमों के साथ मैदान पर खेलने उतरेगी टीम इंडिया

बता दें कि हसन अली ने वनडे रैंकिंग में नंबर-1 गेंदबाज बनने के साथ-साथ इस गेंदबाज ने एक रिकॉर्ड कायम कर लिया है। हसन वनडे क्रिकेट के इतिहास में सबसे तेज 50 विकेट लेने के गेंदबाजों की श्रेणी में पांचवें नंबर आ गए है।

इस मामले में हसन ने अपने देश के पूर्व खिलाड़ी वकार यूनुस को भी पीछे छोड़ दिया है। वकार को 50 विकेट लेने के लिए 27 मैच खेलने पड़ थे, जबकि हसन ने 24 मैचों में 50 विकेट लेकर वकार का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। वहीं, वनडे इतिहास में सबसे तेज विकेट लेने का रिकॉर्ड श्रीलंका के अजिंता मेंडिस के नाम हैं, जिन्होंने 19 मैचों में यह कारनामा कर दिखाया था।

चैंपियंस ट्रॉफी में किया था शानदार प्रदर्शन
चैंपियंस ट्रॉफी में 13 विकेट लेकर वह प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट बने थे। हसर पाकिस्तान में गुंजरावाला से वास्ता रखते हैं। कमाल की बात यह है कि ये इलाका पहलवानों और कबड्डी प्लेयर्स के लिए जाना जाता है।


खेल पर शीर्ष समाचार


x