अवैध कार्यों का विरोध किया तो मंत्रिपरिषद से हटायाः शिवपाल

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2016-11-08 08:54:06
अवैध कार्यों का विरोध किया तो मंत्रिपरिषद से हटायाः शिवपाल

संभल। समाजवादी पार्टी में कलह अभी थमी नहीं है। शिवपाल यादव ने भतीजे अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्हें मंत्रिपरिषद से इसलिए हटाया गया क्योंकि उन्होंने अवैध कार्य करने वालों का विरोध किया था।

सपा के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने सोमवार को बताया कि सीएम अखिलेश ने उन्हें कैबिनेट से क्यों हटाया। शिवपाल ने कहा कि उन्हें मंत्रिपरिषद से इसलिए हटाया गया क्योंकि उन्होंने अवैध कार्य करने वालों का विरोध किया था।

शिवपाल ने कहा, 'मैंने अवैध कार्य और भूमि कब्जा करने वालों का विरोध किया था। इसी वजह से मैं मंत्रिपरिषद से बाहर हूं।'

बता दें कि शिवपाल को भतीजे मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने पिछले महीने अपनी कैबिनेट से बर्खास्त कर दिया था।

जिसके बाद शिवपाल ने जवाबी कार्रवाई में अखिलेश समर्थक कार्यकर्ताओं को अनुशासनहीनता के आरोप में पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया था।

शिवपाल ने यहां कल्कि महोत्सव के मौके पर कहा कि वह अवैध कार्य करने वालों के खिलाफ आवाज उठाना रखना जारी रखेंगे। उन्होंने कहा, 'मैं अच्छा काम करने वालों के साथ हूं चाहे वह धार्मिक कार्य हो या कोई अन्य।'

बीते कुछ दिनों से शिवपाल और अखिलेश के बीच विवाद जारी है। यहां तक एसपी के मुखिया मुलायम सिंह यादव भी इस विवाद को थामने अब तक असफल ही रहे हैं।

गौरतलब है कि 23 अक्टूबर को अखिलेश यादव ने चाचा शिवपाल के अलावा अमर सिंह के समर्थक कहे जाने वाले तीन अन्य मंत्रियों को सरकार से बाहर कर दिया था।

इसके बाद से ही दोनों के बीच तलवारें खिंच गई थीं। यूपी की सत्ताधारी पार्टी में यह विवाद ऐसे मौके पर उभरा है, जब कुछ ही महीनों बाद यूपी में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं।


उत्तर प्रदेश पर शीर्ष समाचार