ICSE बोर्ड: क्लास 6 से 10वीं तक के स्टूडेंट्स फेल होने पर नहीं बढ़ेंगे आगे

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2016-11-04 11:20:01
ICSE बोर्ड: क्लास 6 से 10वीं तक के स्टूडेंट्स फेल होने पर नहीं बढ़ेंगे आगे

नई दिल्ली। राइट टू एजुकेशन एक्ट के तहत क्लास 6 से 10 तक के बच्चों को फेल होने पर भी आगे बढ़ाने के क्रम में इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (ICSE) क्लास 6 से 10 तक के स्टूडेंट्स की क्षमताओं की मूल्यांकन प्रक्रिया को जारी रखेंगे।

रिपोर्ट के मुताबिक ICSE बोर्ड काउंसिल के मुख्य सचिव ने कहा है कि कैबिनेट के सेंट्रल एडवाइजरी बोर्ड ऑफ एजुकेशन रिकमेंडेशन और संसद द्वारा शिक्षा के अधिकार में फेरबदल के बाद इसे काउंसिल के समक्ष अप्रूवल के लिए रखा जाएगा। यह काउंसिल सारे संबंधित स्कूलों को डिटेंशन प्रक्रिया लागू करने के लिए कहेगा।

सूत्रों के मुताबिक वह विभिन्न राज्यों द्वारा नो-डिटेंशन पॉलिसी के अलग-अलग इस्तेमाल पर भी चिंता जताते हैं। वह इसे समान नियम प्रणाली के भीतर की चूक बताते हैं। काउंसिल के संविधान पर जब उनसे पूछा गया कि वह तो सिर्फ परीक्षांए कराने और मान्यता देने का अधिकार रखते हैं तो इस पर उन्होंने कहा कि वह शिक्षा व्यवस्था में समानता लाने के लिए सलाह तो दे ही सकते हैं।

 


राष्ट्रीय पर शीर्ष समाचार