CBI में स्पेशल डायरेक्टर बने IPS अस्थाना, इन्होंने लालू को भेजा था जेल

Edited by: Shiwani_Singh Updated: 23 Oct 2017 | 05:22 PM
detail image

नई दिल्ली। कैबिनेट की नियुक्ति समिति की ओर से आठ आईपीएस अफसरों के प्रमोशन देने को मंजूरी देती है। प्रमोशन की मंजूरी मिलने के बाद गुजरात काडर के एडीशनल डायरेक्टर राकेश अस्थाना को सीबीआई में स्पेशल डायरेक्टर बनाया गया है।

बता दें कि झारखंड के रांची में 1961 में जन्मे IPS अफसर राकेश अस्थाना ने ही बहुचर्चित चारा घोटाले की जांच की थी। उन्होंने लालू यादव के खिलाफ 1996 में चार्जशीट दायर कर उन्हें गिरफ्तार करवाया था। 1997 में उनके समय ही लालू पहली बार गिरफ्तार हुए।

अस्थाना ने ही धनबाद में डीजीएमएस के महानिदेशक को घूस लेते पकड़ा था। उस समय तक पूरे देश में अपने तरीके का यह पहला मामला था, जब महानिदेशक स्तर के अधिकारी सीबीआई गिरफ्त में आए थे।

वहीं, अस्थाना ने ही चर्चित गोधरा कांड की भी जांच की थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर आर.के. राघवन की अगुआई में गठित हुई एसआईटी ने भी सही माना था। साथ ही अहमदाबाद में 26 जुलाई, 2008 को हुए बम ब्लास्ट की जांच का जिम्मा राकेश को ही दिया गया था। उन्होंने 22 दिनों में ही केस को सुलझा दिया था। अस्थाना ने ही आसाराम बापू और उनके बेटे नारायण सांईं के मामले में भी जांच की थी।