पीएम बनाओं तो 'कड़क और ढाबा चाय' में अंतर बताऊंगा: खां

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2016-11-15 15:55:17
पीएम बनाओं तो 'कड़क और ढाबा चाय' में अंतर बताऊंगा: खां

रामपुर। यूपी के कैबिनेट मंत्री आजम खान विवादों में तो हमेशा रहते हैं। इस बार फिर से आजम ने मोदी के कड़क चाय वाले बयान पर चुटकी लेते हुए विवाद खड़ा कर दिया हैं। करेंसी बंदी पर मोदी सरकार को निशाने चुटकी लेते हुए उन्होंने कहा कि पीएम मोदी को कड़क चाय या ढाबे की चाय का मतलब ही नहीं मालूम है।

उन्‍हें नहीं पता कड़क चाय का मतलब। जिसे प्रधानमंत्री मोदी कड़क चाय कहते है उसे हमारी जुबान में ढ़ाबे की चाय कहा जाता है। उन्‍होंने कभी चाय बनाई ही नहीं है। हम उनसे ज्यादा जानते हैं इसीलिए हम कह रहे हैं कि हमें पीएम बनाओ, फिर मैं इसका अंतर बताऊंगा।

इतना ही नहीं 50 दिन की मोहलत देने के प्रधानमंत्री के बयान पर आजम खान ने कहा कि हिटलर ने भी पचास ही दिन मांगे थे, मुसोलिनी ने भी पचास दिन मांगे थे लेकिन इतिहास में उनका नाम बहुत बुराई से लिया जाता है। अच्छा काम करने के लिए दिनों की कैद नहीं होती।


उत्तर प्रदेश पर शीर्ष समाचार