भारत और रूस के बीच 16 समझौतों पर हुए हस्ताक्षर

Edited by: Editor Updated: 15 Oct 2016 | 03:17 PM
detail image

पणजी। गोवा की राजधानी पणजी में शनिवार से दो दिन का ब्रिक्स समिट शुरू हो चुका है। सम्मेलन के पहले दिन भारत और रूस के बीच कई अहम समझौतों पर हस्ताक्षर हुए है। दोनों देशों के शीर्ष नेताओं ने शनिवार को एक प्रेस कॉन्फेंस की, जिसमें पीएम मोदी ने पाकिस्तान और चीन पर वार करते हुए रूस के लिए कहा कि दो नए दोस्तों से बेहतर होता हैं एक पुराना दोस्त।

संवाददाताओं से बात करते हुए मोदी ने कहा कि रूस भी आतंक पर जीरो नीति का समर्थन करता हैं। दोनों देशों की आतंकवाद के खिलाफ रणनीति एक जैसी है। उन्होंने यह भी कहा कि आतंक से लड़ने के लिए रूस और भारत एक साथ है, दोनों देश एक साथ चलते है तो भविष्य बेहतर होगा।

बता दें कि रूस और भारत के बीच शनिवार को 18 समझौतों पर हस्ताक्षर होने थे, जिसमें से 16 पर हस्ताक्षर हो चुके हैं। पांच देशों के समूह ब्रिक्स के इस सम्मेलन में रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के अलावा ब्राजील और दक्षिण अफ्रीका के नेता भी हिस्सा लेंगे।

इस सम्मेलन में आतंकवाद के खतरे से मुकाबले और कारोबार एवं निवेश बढ़ाने जैसे अहम मुद्दों पर चर्चा हो सकती है। कार्यक्रम के मुताबिक शनिवार शाम 5.40 मिनट पर मोदी चीनी राष्ट्रपति से मुलाकात करेंगे।