ISIS के चंगुल से छूटे भारतीय ईसाई धर्मगुरु फादर टॉम

Edited by: Ankur_maurya Updated: 12 Sep 2017 | 07:16 PM
detail image

नई दिल्ली। आतंकवादी संगठन आईएस द्वारा एक साल पहले बंधक बनाए गए केरल के पादरी फादर चॉम उजुन्नलिल अब रिहा हो गए हैं। इसकी जानकारी विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट करके दी।

आपको फादर टॉम को ओमान सरकार के हस्तक्षेप के बाद आईएस के चंगुल से छुड़ाया गया। ओमान सरकार ने ऑनलाइन स्टेटमेंट जारी कर कहा है कि "बादशाह सुल्तान काबूस बिन सईद के आदेश और वेटिकन से मिले अनुरोध पर कार्रवाई करते हुए और यमन सरकार के सहयोग से वेटिकन सरकार के एक कर्मचारी को छुड़ा लिया गया है, उन्हें उनके घर भेजने की तैयारियों के तहत आज सुबह उन्हें मस्कट भेज दिया गया।

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर फादर टॉम की रिहाई की पुष्टि की, उन्होंने बताया कि फादर टॉम को नाजुक हालत में आईएस के चंगुल से छुड़ाया गया और उन्हें ओमान ले जाया गया है।

फादर टॉम की आईएस के चंगुल से रिहाई की खबर पर केरल के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन ने पर खुशी व्यक्त की है, विजयन ने मलयालम में किए गए अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा है, ''आतंकवादियों द्वारा बंधक बना लिए गए फादर टॉम की रिहाई खुश करने वाली खबर है, मुझे पता चला है कि ओमान सरकार के हस्तक्षेप से फादर टॉम की रिहाई संभव हो सकी, हम उनकी केरल वापसी के लिए हरसंभव मदद करेंगे और उनका इलाज भी करवाएंगे।