भारतीय दौरे पर आई इंग्लैंड टीम खुद उठाएगी अपना खर्चा

Edited by: Editor Updated: 06 Nov 2016 | 01:05 PM
detail image

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) और लोढ़ा समिति के बीच चल रहे विवाद के चलते 9 नवंबर से भारत और इंग्लैंड के बीच शुरू हो रही पांच मैचों की टेस्ट सीरीज में इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने भारत दौरे पर आई अपनी टीम का खर्चा खुद उठाने को तैयार हो गया है।

बीसीसीआई के सूत्रों के मुताबिक, बोर्ड के सीईओ राहुल जौहरी और ईसीबी के सीईओ टॉम हैरिसन के बीच इसको लेकर बातचीत हुई थी। इस बात पर सहमति बनी कि जब तक बीसीसीआई अपने देश में चल रहे विवाद को निपटा नहीं देता तब तक ईसीबी अपनी टीम के खर्च का भुगतान खुद करने को तैयार है।

बीसीसीआइ के अधिकारी ने बताया कि जौहरी ने बोर्ड के सचिव अजय शिर्के को भी इस बारे में अवगत करा दिया है और इससे पहले बोर्ड ने साफ कर दिया था कि अगर ईसीबी अपनी टीम का खर्च वहन करने को तैयार होती है तभी यह टेस्ट सीरीज होगी। ईसीबी के सूत्रो ने कहा कि हम नहीं चाहते कि यह सीरीज रद हो और हम बीसीसीआइ की मदद करने को तैयार हैं।

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त लोढ़ा समिति की सिफारिशें लागू किए बगैर बीसीसीआई कोई बड़ा वित्तीय लेन-देन नहीं कर सकता है और इसी वजह से पिछले दिनों शिर्के ने ईसीबी को ईमेल करके कहा था कि वर्तमान दौरे के लिए उनके साथ एमओयू पर दस्तखत होना मुश्किल हो गया है। ऐसे में भारत पहुंच चुकी इंग्लैंड की टीम को भारत में अपना खर्च अपनी जेब से देना होगा।

आप को बता दें कि किसी भी क्रिकेट सीरीज की मेजबानी करने वाला क्रिकेट बोर्ड ही दौरा करने वाले टीम के खिलाड़ियों और रहने-खाने के खर्च का भुगतान करता है। इसके लिए सीरीज से पहले दोनों देशों के बोर्डों के बीच एमओयू होता है।