सरकार का ऐलान, अब बैंकों में पहचान के लिए हाथों में लगेगी स्याही

Edited by: Editor Updated: 15 Nov 2016 | 12:26 PM
detail image

ऩई दिल्ली। केंद्र सरकार के नोट बंदी के फैसले के बाद मंगलवार को वित्त सचिव शक्तिकांत दास ने एक प्रेस क्रांफ्रेंस की। प्रेस कांफ्रेंस के दौरान दास ने कहा कि कुछ लोग बैंकों से बार-बार नोट बदलने के धंधे में जुटे हुए है, जिस पर रोक लगाने के लिए सरकार ने एक अहम फैसला लिया है।

ये भी पढ़ें:  मंदी में कालाधन ही अर्थव्यवस्था को बचाता हैः अखिलेश यादव 

दास ने कहा कि बैंक से पैसा निकालते समय लोगों के हाथों में स्याही लगेगी जैसा मतदान देते समय लोगों के हाथों में लगती है। इसके पीछे तर्क देते हुए दास ने कहा कि कुछ लोग जनधन खाते में कालाधन जमा करवा के सरकार को धोखा देना चाहते है जिसके रोकने के लिए सरकार ने ये फैसला लिया है।

ये भी पढ़ें: यूपी में प्रियंका गांधी करेंगी चुनाव प्रचार,प्लान तैयार

गत दिनों सरकारी कर्मचारियों की हड़ताल की खबरों को अफवाह बताते हुए दास ने कहा कि कोई भी केंद्रीय कर्मचारी हड़ताल नहीं कर रहे हैं।

बाजार में 800 रुपए प्रति किलो के हिसाब से बिके नमक पर बोलते हुए दास ने कहा कि देश की जनता किसी भी तरह की अफवाहों पर ध्यान ना दें, खाद्यान भंडारों में पर्याप्त नमक के स्टॉक उपलब्ध है।