स्मृति ईरानी डिग्री मामला: पटियाला कोर्ट ने की याचिका खारिज

Edited by: Editor Updated: 18 Oct 2016 | 05:25 PM
detail image

नई दिल्ली। डिग्री से जुड़े विवाद में उलझी केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी को पटियाला हाउस कोर्ट ने राहत देते हुए उनके खिलाफ याचिका खारिज कर दी है। जिसमें यह मांग की गई थी कि ईरानी ने चुनाव आयोग को अपनी शैक्षणिक योग्यता के बारे में कथित तौर पर झूठी जानकारी दी थी। कोर्ट ने देरी के आधार पर इस याचिका को खारिज किया।

दरअसल, स्मृति ईरानी पर विभिन्न चुनाव लड़ने के लिए चुनाव आयोग को दिए गए हलफनामे में अपनी शिक्षा के बारे में झूठी जानकारी देने का आरोप था। ईरानी ने 2004 में हुए लोक सभा चुनाव  में दायर हलफनामे में खुद को दिल्ली विश्वविद्यालय से स्नातक बताया था।  दावा किया गया था कि स्मृति ने राज्यसभा में परचा भरते समय जो शपथ पत्र दिया था उसमें और लोकसभा चुनाव में दिए शपथ पत्र में शिक्षा को लेकर झूठी जानकारी दी है। इनमें से एक में स्मृति ने खुद को बीकॉम तो दूसरे में बीए पास बताया है

अदालत ने पिछले साल 20 नवंबर को शिकायतकर्ता अहमर खान की अर्जी मंजूर कर ली थी जिसमें चुनाव आयोग और डीयू के अधिकारियों को निर्देश देने की मांग की गई थी कि ईरानी की योग्यता के रिकॉर्ड को दिखाया जाए।