जरुरतमंद के लिए जयंत सिन्हा ने छोड़ दी अपनी सीट

Edited by: Editor Updated: 07 Nov 2016 | 07:38 PM
detail image

नई दिल्ली। केंद्रीय विमानन मंत्री जयंत सिन्हा ने एक हवाई यात्रा के दौरान अपनी सीट एक ज़रूरतमंद लड़की को दे दी, जिससे उनके दरियादिली की चर्चा खूब हो रही है।

यह ख़बर तब चर्चा का विषय बन गई जब जरुरतमंद लड़की ने सिन्हा के प्रति आभार जताते हुए सिन्हा की दरियादिली की चर्चा अपने ट्विटर एकाउंट पर किया और इसे 'अच्छे दिन' बतलाया।

दरअसल, बैंगलुरु से रांची आ रही इंडिगो की फ्लाइट में श्रेया प्रदीप नाम की लड़की को सिन्हा ने अपनी सीट ऑफर कर दी थी। चूंकि श्रेया की मां बीमार थीं और उन्हें पैर फैलाने के पर्याप्त नहीं जगह चाहिए थी।

ख़बरों के मुताबिक श्रेया को दूसरी सीट पर शिफ्ट किया गया था, लेकिन बाद में पता चला कि यह सीट केंद्रीय नागरिक एवं उड्डयन मंत्री जयंत सिन्हा और उनकी पत्नी की है, लेकिन जब जंयत को जब यह बात पता चली तो उन्होंने श्रेया को सीट से उठने नहीं दिया और पत्नी के साथ दूसरी सीट पर जाकर बैठ गए।

श्रेया के मुताबिक जयंत ने अपनी पहले दर्जे की सीट उनकी मां के लिए छोड़ दी और ख़ुद इकॉनोमी क्लास में सफ़र किया। बता दें, मोदी सरकार में जयंत सिन्हा उन मंत्रियों में हैं, जिनकी सोशल मीडिया पर तत्काल मदद पहुंचाने के लिए तारीफ़ होती रहती है। हालांकि इस मामले में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और रेल मंत्री सुरेश प्रभु जयंत सिन्हा से ज्यादा चर्चित चेहरे हैं।