करेंसी बैन को केजरीवाल ने बताया 'तुगलकी फरमान'

Edited by: Editor Updated: 10 Nov 2016 | 05:13 PM
detail image

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री मोदी द्वारा 500-1000 के नोट बंद किए जाने के केजरीवाल ने ट्विटर पर मोदी पर हमला बोला है। केजरीवाल ने केंद्र सरकार द्वारा 500 और 1,000 के नोटों के विमुद्रीकरण को 'तुगलकी फरमान' करार दिया।

केजरीवाल ने सवाल उठाते हुए कहा, प्रधानमंत्री की घोषणा (बड़े नोटों के विमुद्रीकरण) का सबसे बड़ा लाभ पेटीएम को होने जा रहा है। अगले दिन प्रधानमंत्री उनके विज्ञापनों में नजर आते हैं। प्रधानमंत्री जी क्या साठगांठ है?

इसके साथ ही सीएम केजरीवाल ने समाचार-पत्रों में प्रकाशित निजी ऑनलाइन भुगतान कंपनी पेटीएम के विज्ञापनों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर पर आपत्ति जताते हुए इसे शर्मनाक कहा है।

आपको बता दें कि 500 और 1000 के नोट बंद होने के बाद पेएटीएम को काफी फाय़दा हुआ है, जिसके बाद पेटीएम ने समाचार पत्रों और सोशल मीडिया पर अपने विज्ञापन में पीएम मोदी की फोटो लगाई है। इस तस्वीर पर केजरीवाल ने ट्विट कर कहा है कि बेहद शर्मनाक, क्या जनता यह चाहती है कि उनके प्रधानमंत्री निजी कंपनियों के लिए विज्ञापन करें? कल, अगर ये कंपनियां कुछ गलत करेंगी, तो उनके खिलाफ कौन कार्रवाई करेगा?"