जानिए, पाकिस्तान के 5 प्रमुख मंदिरों के बारे में

Edited by: Aniket Updated: 06 Dec 2017 | 06:35 AM
detail image

नई दिल्ली। भारत में स्थित प्रसिद्ध मंदिरों के बारे में तो हम सभी जानते ही हैं, लेकिन पाकिस्तान में भी कुछ ऐसे हिंदू मंदिर हैं जो कि उतने ही चमत्कारी हैं जितने कि भारत में स्थित हिंदू मंदिर तो आइए जानते हैं पाकिस्तान में स्थित कुछ चमत्कारी हिंदू मंदिर के बारे में-

1- कटासराज मंदिर, पाकिस्तान
भगवान शिव का कटास राज नाम का ये मंदिर पाकिस्तान के पंजाब चकवाल जिले में स्थित हैं। कहा ये भी जाता है कि ऐसे मंदिर के प्रांगण में पाण्डवों ने भी लगभग 4 साल का समय बिताया था। ऐसी मान्यता है कि भगवान शिव की पत्नी सती की मृत्यु के बाद भगवान शिव बहुत रोए थे और उनके आंसुओं से दो तालाबों का निर्माण हुआ था जिनमें से एक अजमेर के पुष्कर में है और दूसरा पाकिस्तान के कटास राज मंदिर में है।

Image result for कटासराज मंदिर, पाकिस्तान

2- रोहतास फोर्ट मंदिर, झेलम
शेरशाह सूरी ने झेलम के पास इस फोर्ट का निर्माण अपने शासनकाल के दौरान साल 1541 से साल 1548 का बीच करवाया था।

Image result for रोहतास फोर्ट मंदिर, झेलम

3- हिंगलाज मंदिर, हिंगोल नेशनल पार्क, बलूचिस्तान
पाकिस्तान के बलूचिस्तान इलाके के हिंगोल नेशनल पार्क में हिंगलाज मंदिर स्थित है। यह भगवती सती का एक शक्तिपीठ माना जाता है। इस मंदिर को नानी मंदिर के नाम से भी जाना जाता है। कहा जाता है कि इस मंदिर का निर्माण माता सती की मृत्यु के बाद भगवान शिव के के गुस्से को शांत करने के लिए भगवान विष्णु ने जब सती के शरीर को 52 टुकड़ों में बांट दिया था तो फिर एक टुकड़ा हिंगलाज मंदिर में जाकर गिरा था।

Related image

4- हिंदू मंदिर, थार
जैन धर्म के 23वें पैगम्बर भगवान पार्श्वनाथ का यह मंदिर एक भारतीय व्यापारी ने बनवाया था लेकिन अब यह लगभग एक खण्डहर में परिवर्तित हो चुका है। गोरी गांव स्थित यह मंदिर 16वीं शताब्दी के आसपास बना था।

Image result for हिंदू मंदिर, थार

5- हिंदू मंदिर, चिन्योट, पंजाब
चेनाव नदी के किनारे पंजाब के चिन्योट में यह मंदिर स्थित है जो पाकिस्तान के सबसे पुराने शहरों में स्थित है। इस मंदिर को महाराजा गुलाब सिंह ने बनवाया था। ऐसा माना जाता है कि इस मंदिर को दूसरे एंग्लो-सिख युद्ध के दौरान बनाया गया था।

Image result for हिंदू मंदिर, चिन्योट, पंजाब