कोहली पर नही चलेगा बॉल टैंपिरंग का केस

Edited by: Editor Updated: 23 Nov 2016 | 01:16 PM
detail image

नई दिल्ली। भारतीय टेस्ट कप्तान विराट कोहली के खिलाफ ब्रिटेन के एक अखबार ने राजकोट टेस्ट में खेले गए पहले टेस्ट मैच में बॉल टैंपिरंग का आरोप लगाया है। लेकिन अखबार द्वारा लगाए गए बॉल टैंपरिंग का यह आरोप का अब कोई आरोप नहीं बन सकता।

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के नियमों के अनुसार, मैच खेल रही दूसरी टीम को बॉल से छेड़छाड़ संबंधी शिकायत मैच खत्म होने के 5 दिन के भीतर करनी होती है। ब्रिटेन के एक टैब्लॉइड ने मंगलवार को आरोप लगाया कि कुछ फुटेज से संकेत जाता है कि कोहली राजकोट में पहले टेस्ट में च्यूंगम के बचे खुचे हिस्से से गेंद को चमका रहे थे।

अखबार ने सबूत के तौर पर तस्वीरों की एक श्रृंखला प्रकाशित की है, जिसमें दावा किया गया है कि इस दौरान कोहली कोई मीठी चीज खा रहे थे। रिपोर्ट में कहा गया है, भारतीय कप्तान कोहली द्वारा इंग्लैंड के खिलाफ जारी टेस्ट सीरीज के पहले टेस्ट के दौरान किसी मीठी चीज खाने से उससे निकले थूक से गेंद को चमकाने का वीडियो फुटेज सामने आया है।

इस वीडियों में कोहली अपने दाहिने हाथ की उंगली मुंह में डालते पकड़े गए हैं। कोहली मुंह में अपनी उंगली को रगड़ते देखा जा सकता है, जबकि इसी दौरान वह कोई मीठी चीज खा रहे हैं। इसके बाद वह गेंद का एक हिस्सा चमकाते देखे गए। हालांकि मैच के दौरान मैदान पर मौजूद अंपायरों या मैच रेफरी ने कोहली को ऐसा कुछ करते नहीं पाया।

राजकोट टेस्ट 13 नवंबर को खत्म हो गया था और अगर इंग्लैंड को कोई शिकायत करनी थी, तो आईसीसी के नियमों के अनुसार यह 18 नवंबर तक होनी चाहिए थी। 5 टेस्ट मैच की सीरीज खेलने के लिए भारत आई इंग्लैंड की टीम इस सीरीज में दो मैच खेलकर 1-0 से पीछे है।