दिवाली के कारण 200 करोड़ रुपए के ईंधन का हुआ नुकसान

Edited by: Editor Updated: 29 Oct 2016 | 06:38 PM
detail image

नई दिल्ली। दिवाली पर्व के कारण सड़कों पर बढ़े यातायात और जाम के चलते 200 करोड़ रुपए के ईंधन का नुकसान हुआ है। दिल्ली-एनसीआर समेत देश के अन्य बड़े शहरों में जाम के कारण न सिर्फ समय, बल्कि बड़े पैमाने पर धन की बर्बादी हुई है। एसोचैम के सर्वेक्षण के मुताबिक स्थानीय प्रशासन ने ट्रैफिक जाम से निजात पाने के लिए कई कदम उठाए।

रिपोर्ट के मुताबिक ट्रैफिक समस्या से निजात पाने के लिए प्रशासन द्वारा विभिन्न स्थानों पर व्यस्त बाजारों में यातायात को प्रतिबंधित कर दिया गया, लेकिन दिवाली की खरीदारी और तोहफे का आदान-प्रदान करने वाले लोगों की वजह से यातायात ठहर सा गया। अहमदाबाद, दिल्ली-एनसीआर, बेंगलुरू, कोलकाता, हैदराबाद, मुंबई, पुणे समेत देश के अन्य बड़े शहरों में इस दौरान लोगों को सफर में काफी परेशानी उठानी पड़ी।

हर जगह लोग ट्रैफिक जाम से त्रस्त रहे। इस दौरान लोगों का सिर्फ समय ही बर्बाद नहीं हुआ, बल्कि भारी पैमाने पर ईंधन का नुकसान हुआ है, जिसकी कीमत 200 करोड़ रूपए के करीब बताई जा रही है। संगठन के महासचिव डी एस रावत ने कहा है कि यहां तक कि जो लोग शायद ही कभी अपनी गाड़ी से रोज सफर करते हों, वे भी दिवाली की बधाई देने और तोहफे देने के लिए अपनी गाड़ी से दोस्तों और रिश्तेदारों के घर जाते हैं, जिससे सड़क पर इस दौरान कम से कम 25 प्रतिशत ट्रैफिक बढ़ जाता है।