घर बैठे माइक्रो एटीएम से निकाले कैश

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2016-11-15 12:31:33
घर बैठे माइक्रो एटीएम से निकाले कैश

नई दिल्ली। 500 और 1000 के नोट बंदी के बाद से पूरे देश में हाहाकार मचा हुआ है। नोट बंद करने के फैसले की एक तरफ तारीफ हो रही है तो दूसरी तरफ इस घोषणा के बाद से विरोध की खबरें भी लगातार आ रही हैं।

इसके अलावा देशभर में बैंकों और एटीएम पर लंबी-लंबी कतारें लगी हुई हैं। लोग घंटों लाइनों में लगने को मजबूर हैं, लेकिन उन्हें अपना ही पैसा नहीं मिल पा रहे हैं।

ऐसे में लोगों को कैस निकासी में सुविधा पहुंचाने के लिए सरकार ने माइक्रो एटीएम की संख्या बढ़ाने की बात कही है। ऐसे में सवाल यह है कि माइक्रो एटीएम किस तरह से लोगों की दिक्कतों को कम करेगा।

डिपार्टमेंट ऑफ इकनॉमिक अफेयर्स (डीईए) के शक्तिकांत ने सोमवार को एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि सरकार ने देशभर में एटीएम की तरह ही काम करने वाले माइक्रो एटीएम की संख्या बढ़ाने का फैसला लिया है।

आई जानते हैं क्या है माइक्रो एटीएम की विशेषताएं…

1.माइक्रो एटीएम असल में कार्ड स्वाइप मशीन है। शॉपिंग के दौरान आप क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड स्वाइप कराकर भुगतान करते होंगे। इस मशीन में भी आप कार्ड स्वाइप करके अपने बैंक खाते से पैसा निकाल सकते हैं।

हालांकि इस मशीन का काम साधारण स्वाइप मशीन से काफी ज्यादा है। यह मशीन जीपीआरएस के जरिए बैंक के सर्वर से जुड़ी रहती है। कुछ मशीनों में फिंगरप्रिंट सेंसर भी लगा होता है।

2. माइक्रो एटीएम एक छोटी सी मशीन है और इसमें कार्ड स्वाइप करके आप अपने बैंक खाते से पैसा निकाल सकते हैं। स्वाइप करने के बाद मशीन जीपीआरएस के माध्यम से आपके बैंक के सर्वर से संपर्क साधती है। आपकी केवाईसी की जांच के बाद आपके अकाउंट से पैसा डेबिट हो जाता है।हालांकि इस मशीन से रुपए निकलने की बजाय, इसके लिए मशीन के साथ आया बैंक मित्र आपको कैश देता है।

3.माइक्रो एटीएम ग्रामीण और उन दूर-दराज के इलाकों के लिए बेहद उपयोगी है, जहां बैंक और एटीएम की सुविधा नहीं है। यहां बैंक मित्र इस माइक्रो एटीएम के साथ पहुंचकर जरुरतमंद लोगों को उनके घर के पास जाकर कैश उपलब्ध कराते हैं। इसके तहत एक तरह से बैंक खुद आपके घर आकर आपको कैश थमा जाता है।

4.माइक्रो एटीएम बैंकिंग सिस्टम से जरुर जुड़ा है, लेकिन यह एटीएम नहीं है। माइक्रो एटीएम के साथ एक बैंक कर्मचारी या बैंक मित्र कैश लेकर ग्राहक तक पहुंचता है और उपभोक्ता को कैश मुहैया कराता है। ऐसे में कैश की उपलब्धता कम ही रहती है। इसके अलावा कैश लेकर सफर करना बैंक मित्र के लिए भी असुविधा का सबब हो जाता है।


राष्ट्रीय पर शीर्ष समाचार