जयललिता की तस्वीर के सामने बैठक कर रहे मंत्री

Edited by: Editor Updated: 15 Oct 2016 | 12:29 PM
detail image

चेन्नई। तामिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता पिछले तीन सप्ताह से अस्पताल में भर्ती हैं। लेकिन उनकी गैरमौजूदगी में सरकार का काम चल रहा है। इसके लिए उनके मंत्रियो ने एक अनोखा तरीका निकाला है। सचिवालय में बैठकें जयललिता के तस्वीर के सामने की जा रही हैं।

राज्य सरकार के सूचना विभाग की ओर से इन रिव्यू बैठकों की तस्वीरें जारी की जा रही हैं। विभाग यह सुनिश्चित कर रहा है कि तस्वीरों के साथ यह कैप्शन जरूर जाए कि सब कुछ मुख्यमंत्री के 'आदेश के मुताबिक' हो रहा है। हालांकि, विभाग ने इस बारे में नहीं बताया कि बीमार जयललिता ने ये आदेश कैसे दिए?

बीते तीन हफ्तों से जयललिता का चेन्नई के अपोलो अस्पताल में इलाज चल रहा है। बुखार और डीहाईड्रेशन की शिकायत के बाद 22 सितंबर को उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। अपोलो अस्पताल की ओर से जारी कई हेल्थ बुलेटिन में बताया गया कि सीएम के फेफड़ों में इन्फेक्शन का इलाज चल रहा है। बीते मंगलवार को जयललिता के सभी विभाग उनके करीबी और राज्य के वित्त मंत्री ओ पनीरसेल्वम को सौंप दिए गए।

68 साल की जयललिता का कोई स्वभाविक उत्तराधिकारी नहीं है। राजनीतिक दृष्टिकोण से बेहद अहम माने जाने वाले इस राज्य में उनकी सेहत को लेकर अटकलबाजी का दौर जारी है। लेकिन जयललिता के मंत्री ये तरीका इसलिए अपना रहे हैं जिससे शासन की पूरी कार्यवाही अम्मा की आंखों के सामने चले।