विएना बैठक: एनएसजी में भारत की एंट्री की बढ़ सकती है उम्मीद

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2016-11-03 11:48:15
विएना बैठक: एनएसजी में भारत की एंट्री की बढ़ सकती है उम्मीद

नई दिल्ली। एनएसजी (न्यूक्लियर सप्लायर्स ग्रुप) के विशेष प्रतिनिधि रफेस ग्रोसी सलाहकार समूह की वियना में होने वाली बैठक में नए देशों को एनएसजी में शामिल करने को लेकर नई प्रक्रिया का सुझाव दे सकते हैं।

बता दें कि 11-12 नवंबर को वियना में होने वाली बैठक में रफेल नन एनपीटी (न्यूक्लियर नन-प्रोलिफेरेशन ट्रीटी) देशों को एनएसजी में शामिल करने के लिए टू स्टेज प्रक्रिया का प्रस्ताव दे सकते हैं। इस प्रस्ताव से भारत का एनएसजी में प्रवेश करना काफी हद तक आसान हो जाएगा।

हालांकि इससे पहले चीन कई बार भारत के एनएसजी में शामिल होने को लेकर एतराज़ जता चुका हैं। जिसके बाद में चीन और भारत की एनएसजी पर आपसी बातचीत भी असफल हो गई थी। फिलहाल चीन वियना में होने वाली इस बैठक में शामिल होने के लिए सहमत हो गया हैं।

इस मामले में चीन विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने कहा है कि हम एक ऐसा समानधान निकालने कोशिश करेंगे। जिससे सभी एनपीटी देशों के लिए लागू करना आसानी हो सकें। साथ ही उन्होने कहा कि हम इस मुद्दें पर भारत से लगातार बातचीत करते रहेंगे।

वैसे चीन नें अपनी चतुराई दिखाते हुए यह सवाल भी उठा दिया हैं कि क्या रफेल ग्रोसी के प्रस्ताव को सभी देशों का समर्थन हासिल है। वही अब न्यूजीलैंड भी भारत के एनएसजी में शामिल होने पर अपना रूख बदलता हुआ दिखाई दे रहा हैं।


राष्ट्रीय पर शीर्ष समाचार