अब आ गया पेंटर रोबो!

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2017-03-16 09:14:44
 अब आ गया पेंटर रोबो!

नई दिल्ली। इंसान की तरह दिखने वाले रोबोट जल्द ही आपको पेंटिंग करते भी नजर आएंगे। बर्लिन की एक आर्ट गैलरी डिक्सिट अल्गोरिज्मी में लगी ड्राइंग मशीन असल में पॉल नाम के पांच रोबोटों का इंस्टालेशन हैं, जिन्हें पॉल्स कहा जाता है।

यह भी पढें- कछुए के पेट से निकल रहे है सिक्के, सभी भौचक्के

रिपोर्ट के मुताबिक बर्लिन आर्ट गैलरी में लगे रोबोट्स का स्केचिंग स्टाइल काफी अलग है और उनके द्वारा स्केच किया गया पोट्रे काफी वास्तविक सा लगता है। रिपोर्ट कहती है कि एक पोट्रे सेशन करीब आधे घंटे का होता है, लेकिन असली आर्ट क्लास की तरह यहां भी रोबोट कुछ पोट्रे बहुत जल्दी बना देते हैं, तो कुछ में परफेक्शन पाने के चक्कर में ज्यादा टाइम लगाते हैं।

रिपोर्ट कहती है कि पोट्रे सेशन के दौरान मॉडल को काफी देर तक बिना हिले डुले भी बैठे रहना पड़ता है, क्योंकि हर रोबोट की आंख में कैमरा है और स्केच बनाने का काम रोबोटिक आर्म करती है जबकि रोबोट का दिमाग टेबल के नीचे लगा एक लैपटॉप होता है।

यह भी पढें- 69 बच्चों को जन्म देने वाली फिलिस्तीनी महिला की मौत

बर्लिन के थॉर्स्टन प्लात्स ने अपने अनुभव शेयर करते हुए बताया कि स्केच बनाते वक्त पेंटर रोबोट्स ने उन्हें देखा और फिर जब रोबोट्स ने स्केच बना दिए तो वो दंग रह गया, क्योंकि वह बहुत ही हैरतंगेज और दिलचस्प अनुभव था।

गौरतलब है स्केचिंग रोबोट के आविष्कारक हैं पाट्रिक ट्रेसे ने फॉर्मेटिक्स की पढ़ाई करने के बाद पेंटर बन गए, लेकिन एक मानसिक बीमारी के इलाज के दौरान उन्होंने हाथ से पेंटिंग करना छोड़ना पड़ा था। बाद में ट्रेसे पेंटिंग करने वाले रोबोट विकसित करने में जुट गए।